Aligarh will be vaccine for 4.5 lakh adolescents aged 15 to 18 years, a campaign will be run in schools | महामारी से बचाव को 15 से 18 वर्ष के किशोरों का शुरू हुआ पंजीकरण, स्कूलों में चलेगा अभियान

अलीगढ़2 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

महामारी से बचाव के लिए 15 से 18 वर्ष आयु के किशोरो को भी अब को-वैक्सीन की डोज दी जाएगी।

महामारी से बच्चों को बचाने के लिए पहले चरण में 15 से 18 साल आयु के किशोरों को 3 जनवरी के टीके की पहली डोज दी जाएगी। इसके लिए किशोरों के पंजीकरण शुरू किए जा चुके हैं। स्वास्थ्य महकमा पहली बार किशोरों की गणना करने जा रहा है, जिससे कि सभी किशोरों को वैक्सीन की डोज दी जा सके और उन्हें महामारी से सुरक्षित किया जा सके। पीएम ने 25 दिसंबर को इसकी घोषणा की थी। इसके बाद किशोरों के रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया शुरू कर दी है। वयस्कों के जैसे ही कोविन पोर्टल पर किशोरों के रजिस्ट्रेशन भी किए जा रहे हैं और रजिस्ट्रेशन के बाद उन्हें स्वदेशी को-वैक्सीन की डोज लगाई जाएगी। इसके लिए किशोरों को ऑनलाइन पोर्टल या वेबसाइट पर जाकर अपने स्लॉट बुक करने होंगे।

पूरे प्रदेश में तैयार होगा किशोरों का आंकड़ा

सीएमओ डॉ आनंद उपाध्याय ने बताया कि ऐसा पहली बार होने जा रहा है, जबकि किशोरों का अलग से आंकड़ा तैयार किया जा रहा है। इसके लिए अधिकारियों की देखरेख में किशोरों की गणना हो रही है और पूरे प्रदेश में अधिकारी इसमें जुट गए हैं। आशाओं और स्वास्थ्य कर्मियों की मदद से किशोरों का आंकड़ा एकत्रित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि अलीगढ़ जिले में लगभग साढ़े 4 लाख किशोर हैं, जिनकी आयु 15-18 वर्ष के बीच है। जल्दी ही इनका समुचित डाटा विभाग के पास होगा।

स्कूल कालेज में जागरुक कर कराएंगे रजिस्ट्रेशन

युवाओं के रजिस्ट्रेशन करने के लिए स्वास्थ्य महकमा शिक्षा विभाग की सहायता ले रहा है। शिक्षा विभाग के स्कूल और काॅलेजों में युवाओं को जागरुक करने के लिए अभियान शुरू कर दिया गया है। शिक्षकों के जरिए विद्यार्थियों को जागरुक किया जाएगा और कालेजों में ही उनके रजिस्ट्रेशन किए जाएंगे। इससे कि जल्द से जल्द उनका टीकाकरण करके उन्हें महामारी से बचाया जा सके।

सभी काॅलेजों को दिए गए निर्देश

जिला विद्यालय निरीक्षक डॉ धर्मेंद्र शर्मा ने बताया कि किशोरों का रजिस्ट्रेशन करने और उन्हें जागरुक करने के लिए सभी काॅलेजों को निर्देश दिए जा चुके हैं। सभी बोर्डों से मान्यता प्राप्त सरकारी, सहायता प्राप्त और वित्तविहीन कालेजों को निर्देशित किया जा चुका है। इससे कि ज्यादा से ज्यादा किशोरों का रजिस्ट्रेशन करके उनका टीकाकरण किया जा सके। विद्यालयों में छुटि्टयां चल रहीं हैं, ऐसे में कक्षा अध्यापक अपने विद्यार्थियों व उनके परिजनों से फोन के माध्यम से संपर्क करेंगे और उनका पंजीकरण कराएंगे। इसकी रिपोर्ट विभाग के पास भी पहुंचेगी।

अलीगढ़ में लगभग साढ़े 4 लाख किशोर

स्वास्थ्य महकमें की माने तो पहले चरण में अलीगढ़ में लगभग साढ़े चार लाख युवाओं को को-वैक्सीन लगाई जाएगी। वहीं पूरे प्रदेश में 15 से 18 साल के किशोरों की संख्या 2.25 से 3 करोड़ के बीच हो सकती है। किशोरों का सही आंकड़ा तैयार करने के लिए स्वास्थ्य महकमा इनका डेटा तैयार करना शुरू कर दिया है। विभाग के अनुसार स्कूल कालेजों से भी आंकड़ा जुटाया जा रहा है। इससे कि किशोरों की सही संख्या पता लगाई जा सके।

इस तरह से कर सकते हैं पंजीकरण

  • सबसे पहले आरोग्य सेतु ऐप या Cowin.gov.in वेबसाइट पर जाएं।
  • अगर आप कोविन (CoWIN) पर रजिस्टर्ड नहीं हैं तो पहले रजिस्टर का विकल्प चुनें।
  • फिर रजिस्ट्रेशन पेज दिखाई देगा। आपको उस पर फोटो, ID टाइप, नंबर और अपना पूरा नाम दर्ज करना होगा। (यहां आप 10वीं का ID कार्ड सेलेक्ट कर सकते हैं)। साथ ही, यहां बच्चे का लिंग और आयु दर्ज करें।
  • एक बार पंजीकरण पूरा हो जाने के बाद, आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक कंफर्मेशन संदेश आएगा।
  • मेंबर के रजिस्टर्ड होने के बाद आप अपने एरिया का पिन कोड डालें। इससे वैक्सीनेशन सेंटर की लिस्ट आ जाएगी।
  • अब डेट, टाइम के साथ अपना वैक्सीन स्लॉट बुक करें और सेंटर पर जाकर वैक्सीनेशन कराएं।
  • वैक्सीनेशन सेंटर पर आपको अपना आइडेंटिटी प्रूफ और सीक्रेट कोड की जानकारी देनी होगी। जो आपको रजिस्ट्रेशन करने पर मिलती है।
  • अगर आप पहले से कोविन (CoWIN) पर रजिस्टर्ड हैं, तो साइन चुनें और अपना रजिर्स्ड मोबाइल नंबर डालें और गेट OTP पर क्लिक करें
  • फिर अपने मोबाइल नंबर पर आए OTP को दर्ज करें और वैरिफाई बटन पर क्लिक करें।
  • अब अपने एरिया का पिन कोड डालें और सेंटर के अनुसार अपना वैक्सीन स्लॉट बुक करें और वैक्सीनेशन कराएं।
  • अगर आप बुकिंग आरोग्य सेतु ऐप से कर रहे हैं, तो CoWIN टैब पर जाएं, और वैक्सीन टैब पर क्लिक करें। इसके बाद आगे बढ़ें पर क्लिक करें और ऊपर बताए गए तरीके से वैक्सीन स्लॉट बुक करें।
  • एक मोबाइल नंबर से अधिकतम चार लोगों का वैक्सीनेशन के लिए रजिस्ट्रेशन किया जा सकता है।

खबरें और भी हैं…

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*