Dewar bhabhi love story and murder in jhansi, police arrest wife after three months of husband murder up crime today news updates in hindi | 6 माह में 11374 मिनट हुई प्रेम भरी बातें, पति को सुलाकर रातभर प्रेमी से होती थी गुफ्तगु

  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Jhansi
  • Dewar Bhabhi Love Story And Murder In Jhansi, Police Arrest Wife After Three Months Of Husband Murder Up Crime Today News Updates In Hindi

झांसी21 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

पति की हत्या की आरोपी रामकुमारी और आदर्श को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

झांसी में देवर-भाभी की कातिलाना लव स्टोरी सुनकर हर कोई हैरान है। पति की हत्या करवाकर महिला पूरी जिंदगी 8 साल छोटे प्रेमी चचेरे देवर के साथ गुजारना चाहती थी। हत्या के बाद 3 महीने तक पुलिस केस ट्रेस नहीं कर पाई। तब शक के आधार पर पत्नी के नंबर की सीडीआर निकलवाई गई तो चौंकाने वाला खुलासा हुआ।

हत्या से 6 माह पहले पत्नी की एक नंबर पर सबसे अधिक 11 हजार 374 मिनट (लगभग 189 घंटे) बातचीत होना सामने आई। इस नंबर की जांच हुई तो पता चला ये कोई और नहीं, 100 मीटर दूर रहने वाला चचेरा देवर ही है। जब भी वह फ्री होती तो फोन पर प्रेमी से ही बात करती थी। रात में भी पति को सुलाकर वह छुपकर प्रेमी से रातभर बातें करती थी। यहीं से पुलिस को शक हुआ। सख्ती से पूछताछ में मर्डर मिस्ट्री का खुलासा हो गया।
जब महिला की शादी हुई, तब प्रेमी 9 साल का था

लोकेंद्र पटेल खेतीबाड़ी का काम करता था। 30 सितंबर 2021 को उसकी हत्या हुई थी।

लोकेंद्र पटेल खेतीबाड़ी का काम करता था। 30 सितंबर 2021 को उसकी हत्या हुई थी।

बिजौरा गांव निवासी लोकेंद्र पटेल (30) खेती करता था। 2010 में उसकी शादी रामकुमारी (28) से हुई थी। तब रामकुमारी का प्रेमी चचेरा देवर आदर्श पटेल (20) सिर्फ 9 साल का था। आदर्श अपने माता-पिता का इकलौता बेटा है। करीब 6 माह से रामकुमारी और आदर्श के बीच अवैध संबंध थे। इन 6 माह में दोनों के बीच फोन पर दिन में 4321 मिनट और रात में 7698 मिनट बातचीत हुई। संयुक्त परिवार और काम की वजह से महिला दिन में कम बात करती थी। रात को पति के सोने के बाद वह रातभर प्रेमी से गुफ्तगु करती थी।
प्रेमिका को दिलाया था नया मोबाइल

ब्लाइंड मर्डर का 3 महीने बाद खुलासा होने पर प्रेसवार्ता कर जानकारी देते एसएसपी शिवहरी मीना।

ब्लाइंड मर्डर का 3 महीने बाद खुलासा होने पर प्रेसवार्ता कर जानकारी देते एसएसपी शिवहरी मीना।

21 अगस्त, 2021 को लोकेंद्र ने अपनी पत्नी रामकुमारी को अपने चचेरे भाई आदर्श पटेल के साथ घर पर आपत्तिजनक हालत में देख लिया था। तभी से दोनों के बीच मनमुटाव हो गया था। उसने आदर्श को घर आने से मना कर दिया था। पत्नी से मोबाइल छीनकर सिम तोड़कर फेंक दिया। कुछ दिन बाद आदर्श ने एक की-पैड मोबाइल और अपने नाम से सिम लेकर प्रेमिका रामकुमारी को दिया था। कुछ दिनों तक बातचीत हुई, लेकिन पकड़े जाने के डर से 20 सितंबर 2021 के आदर्श ने मोबाइल और सिम वापस ले लिया था।
मिलना और बात करना बंद हुआ, तब बना मर्डर का प्लान
दोनों एक-दूसरे काे प्रेम करते थे। पति की सख्ती के बाद न तो वे मिल पा रहे थे और न ही फोन पर बातचीत कर पा रहे थे। दोनों के मिलने में पति बाधा बन रहा था। इससे दोनों ने लोकेंद्र को बीच से हटाने का प्लान बनाया। 30 सितंबर को साजिश के तहत रामकुमारी अपने पति लोकेंद्र को खेत पर लेकर गई। उस समय देवर कुल्हाड़ी लेकर खेत में छिपा था। जब शाम को दोनों घर जाने लगे, तो देवर ने पीछे से लोकेंद्र के सिर पर हमला कर उसकी हत्या कर दी।
गिरफ्तारी से एक दिन पहले कलेक्ट्रेट में दिया था धरना

हत्याकांड का खुलासा न होने पर परिजनों के साथ रामकुमारी मंगलवार को कलेक्ट्रेट में धरने पर बैठ गई थी। घूंघट डालकर धरने में बैठी रामकुमारी।

हत्याकांड का खुलासा न होने पर परिजनों के साथ रामकुमारी मंगलवार को कलेक्ट्रेट में धरने पर बैठ गई थी। घूंघट डालकर धरने में बैठी रामकुमारी।

लोकेंद्र की हत्या के बाद परिजन पुलिस पर दबाव बना रहे थे। पत्नी रामकुमारी ने अज्ञात पर हत्या का केस दर्ज कराया था। बाद में परिजनों ने गांव के प्रधान समेत 4 लोगों पर हत्या करने का आरोप लगाया था। दो बार थाने में प्रदर्शन किया। मंगलवार को कलेक्ट्रेट में धरने पर बैठ गए थे। तब पुलिस अफसरों ने समझा कर धरना समाप्त कराया था। इस धरने में पत्नी भी शामिल थी। महिला का 9 साल का एक बेटा भी है।

खबरें और भी हैं…

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*