Girl Students Demanded For Police Picket – छात्राओं ने की पुलिस पिकेट की मांग


ख़बर सुनें

छात्राओं ने की पुलिस पिकेट की मांग
छींटाकशी से सहमी स्वामी देवानंद पीजी कॉलेज की छात्राएं कम संख्या में शनिवार को पहुंची कॉलेज
संवाद न्यूज एजेंसी
लार। स्वामी देवानंद पीजी कॉलेज में शुक्रवार को मनचलों द्वारा छात्राओं से छेड़खानी और छींटाकशी से सहमी छात्राएं शनिवार को कम संख्या में कॉलेज पहुंचीं। जो छात्र व छात्राएं कॉलेज पहुंचे उन्होंने सुरक्षा के लिहाज से कॉलेज के मुख्य गेट पर पुलिस पिकेट की मांग की। छात्र-छात्राओं ने कहा कि अगर कॉलेज प्रशासन और पुलिस हमारी सुरक्षा को लेकर गंभीरता पूर्वक अराजकतत्वों पर कार्रवाई नहीं करती है, तो मामले की शिकायत डीएम और एसपी से करेंगे।
शुक्रवार को नगर के स्वामी देवानंद पीजी कॉलेज के परिसर में चार अराजकतत्व घुस गए। परिसर में खड़ी दो छात्राओं को देखकर फब्तियां कसते हुए छेड़खानी की। साथ ही किसी से नहीं कहने की धमकी दी। साहस दिखाते हुए दोनों छात्राओं ने पुलिस को फोन कर छेड़खानी की सूचना दी। हरकत में आई पुलिस कॉलेज पहुंची तो मनचले भाग निकले। इस घटना से सहमीं छात्राएं शनिवार को कम संख्या में कॉलेज पहुंची। पढ़ने आईं छात्राओं ने कहा कि कॉलेज प्रशासन और पुलिस प्रशासन मनचलों पर कठोर कार्रवाई करे। कॉलेज परिसर में बाहरी अराजकतत्व घुस कर छात्राओं पर छींटाकशी करते हैं। कुछ छात्राएं मनचलों के डर से कॉलेज पढ़ने नहीं आ रही हैं। ऐसे में कॉलेज गेट पर पुलिस पिकेट की हम सभी मांग करते हैं। उधर, छात्रा से हुई छेड़खानी के बाद लार पुलिस दूसरे दिन भी आरोपितों की तलाश में कॉलेज पहुंची। इसके अलावा पुलिस ने एक-एक छात्रों का परिचय पत्र चेक किया। गेट के बाहर झुंड लगाकर खड़े युवकों को दौड़ा दिया। महिला कांस्टेबल ने कहा कि आप लोग निर्भीक होकर कॉलेज आइए, पुलिस आप के साथ है। ,वहीं कुछ अभिभावकों ने मामले की शिकायत एसपी से की है। एसपी ने जांच कर कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। इस संबंध में प्रभारी निरीक्षक बरजोर सिंह ने बताया कि किसी भी हाल में मनचलों को बख्शा नहीं जाएगा। कॉलेज में पुलिस की ड्यूटी लगा दी गई है। किसी भी प्रकार की समस्या होने पर छात्राएं बेझिझक पुलिस को सूचना दें। पुलिस उनकी मदद करेगी। आरोपी मनचलों की तलाश की जा रही है।
अध्यापकों से भी उलझ जाते हैं मनचले
लार। छात्राओं से हुई छेड़खानी के बाद अध्यापक भी सहम गए हैं। शनिवार को कॉलेज पहुंचे अध्यापकों ने पुलिस से बताया कि हमारे कॉलेज के छात्र किसी प्रकार की अभद्रता नहीं करते हैं। बाहरी अराजकतत्व आकर अभद्रता करते हैं। विरोध करने पर शिक्षकों से उलझ जाते हैं। इसको लेकर कई बार विवाद भी हो चुका है।

छात्राओं ने की पुलिस पिकेट की मांग

छींटाकशी से सहमी स्वामी देवानंद पीजी कॉलेज की छात्राएं कम संख्या में शनिवार को पहुंची कॉलेज

संवाद न्यूज एजेंसी

लार। स्वामी देवानंद पीजी कॉलेज में शुक्रवार को मनचलों द्वारा छात्राओं से छेड़खानी और छींटाकशी से सहमी छात्राएं शनिवार को कम संख्या में कॉलेज पहुंचीं। जो छात्र व छात्राएं कॉलेज पहुंचे उन्होंने सुरक्षा के लिहाज से कॉलेज के मुख्य गेट पर पुलिस पिकेट की मांग की। छात्र-छात्राओं ने कहा कि अगर कॉलेज प्रशासन और पुलिस हमारी सुरक्षा को लेकर गंभीरता पूर्वक अराजकतत्वों पर कार्रवाई नहीं करती है, तो मामले की शिकायत डीएम और एसपी से करेंगे।

शुक्रवार को नगर के स्वामी देवानंद पीजी कॉलेज के परिसर में चार अराजकतत्व घुस गए। परिसर में खड़ी दो छात्राओं को देखकर फब्तियां कसते हुए छेड़खानी की। साथ ही किसी से नहीं कहने की धमकी दी। साहस दिखाते हुए दोनों छात्राओं ने पुलिस को फोन कर छेड़खानी की सूचना दी। हरकत में आई पुलिस कॉलेज पहुंची तो मनचले भाग निकले। इस घटना से सहमीं छात्राएं शनिवार को कम संख्या में कॉलेज पहुंची। पढ़ने आईं छात्राओं ने कहा कि कॉलेज प्रशासन और पुलिस प्रशासन मनचलों पर कठोर कार्रवाई करे। कॉलेज परिसर में बाहरी अराजकतत्व घुस कर छात्राओं पर छींटाकशी करते हैं। कुछ छात्राएं मनचलों के डर से कॉलेज पढ़ने नहीं आ रही हैं। ऐसे में कॉलेज गेट पर पुलिस पिकेट की हम सभी मांग करते हैं। उधर, छात्रा से हुई छेड़खानी के बाद लार पुलिस दूसरे दिन भी आरोपितों की तलाश में कॉलेज पहुंची। इसके अलावा पुलिस ने एक-एक छात्रों का परिचय पत्र चेक किया। गेट के बाहर झुंड लगाकर खड़े युवकों को दौड़ा दिया। महिला कांस्टेबल ने कहा कि आप लोग निर्भीक होकर कॉलेज आइए, पुलिस आप के साथ है। ,वहीं कुछ अभिभावकों ने मामले की शिकायत एसपी से की है। एसपी ने जांच कर कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। इस संबंध में प्रभारी निरीक्षक बरजोर सिंह ने बताया कि किसी भी हाल में मनचलों को बख्शा नहीं जाएगा। कॉलेज में पुलिस की ड्यूटी लगा दी गई है। किसी भी प्रकार की समस्या होने पर छात्राएं बेझिझक पुलिस को सूचना दें। पुलिस उनकी मदद करेगी। आरोपी मनचलों की तलाश की जा रही है।

अध्यापकों से भी उलझ जाते हैं मनचले

लार। छात्राओं से हुई छेड़खानी के बाद अध्यापक भी सहम गए हैं। शनिवार को कॉलेज पहुंचे अध्यापकों ने पुलिस से बताया कि हमारे कॉलेज के छात्र किसी प्रकार की अभद्रता नहीं करते हैं। बाहरी अराजकतत्व आकर अभद्रता करते हैं। विरोध करने पर शिक्षकों से उलझ जाते हैं। इसको लेकर कई बार विवाद भी हो चुका है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*