Iglas police had gone to MP on 6th October to catch the vicious robber, an accident happened in Murauna | शातिर लुटेरे को पकड़ने के लिए 6 अक्टूबर को MP गई थी इगलास पुलिस, मुरैना में हुआ था हादसा

अलीगढ़एक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

इगलास पुलिस की गिरफ्त में शातिर लुटेरा

अलीगढ़ के इगलास थाने के 4 पुलिस कर्मियों की मौत का कारण बना शातिर लुटेरा बुधवार को अलीगढ़ में ही पकड़ा गया। इस लुटेरे को पकड़ने के लिए लगभग ढ़ाई महीने पहले इगलास थाने की पुलिस मध्यप्रदेश के लिए रवाना हुई थी। एमपी के मुरैना जिले में प्रवेश करते ही पुलिस कर्मियो की बुलेरो का एक्सीडेंट हो गया था। जिसमें इगलास थाने में तैनात एसआई समेत चार पुलिस कर्मी और एक ड्राइवर की मौत हो गई थी। जिसके बाद पु लिस लगातार आरोपी की तलाश में थी। मुखबिर की सूचना पर इगलास पुलिस ने बुधवार को उसे इगलास थाना क्षेत्र की एक यूनिवर्सिटी के नजदीक से गिरफ्तार कर लिय है।

कई मामलों में वांछित है शातिर लुटेरा

आरोपी प्रेमपाल उर्फ गपुआ उर्फ विजय पुत्र फौजदार उर्फ तेजपाल निवासी भदनवारा थाना सुरीर, मथुरा शातिर अपराधी है। उसके खिलाफ दिन दहाड़े लूट और चोरी के कई मामले दर्ज हैं। अक्टूबर में पुलिस को सूचना मिली थी कि वह मध्यप्रदेश में छिपा हुआ है। जिसके बाद उसे पकड़ने के लिए 6 अक्टूबर को एक एसआई व तीन कांस्टेबल रवाना हुए थे। आगरा पार करते ही मुरैना जिले में सड़क दुर्घटना में इनकी मौत हो गई थी। जिसके बाद पुलिस लगातार लुटेरे की तलाश कर रही थी। मुखबिर से पुलिस को सूचना मिली, जिसके बाद आरोपी को पुलिस ने मंगलायतन यूनिवर्सिटी के पास से गिरफ्तार कर लिया है। उसके पास से लूट/चोरी के रुपए, चोरी की एक मोटर साइकिल और एक तमंचा 315 बोर व एक जिन्दा कारतूस बरामद हुआ है। जिसके बाद पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धारा 3/25 आयुध अधिनियम, धारा 41/102 सीआरपीसी व 411/414/420 के तहत मुकदमा दर्ज करके विधिक कार्रवाई शुरू कर दी है।

आरोपी के खिलाफ अलीगढ़ में हैं 11 मुकदमें

सीओ इगलास अशोक कुमार सिंह ने बताया कि आरोपी के खिलाफ अलीगढ़ व मथुरा के विभिन्न थानों में लूट, चोरी, आर्म्स एक्ट समेत विभिन्न मामलों में मुकदमें दर्ज हैं। जिसके बाद से मथुरा और अलीगढ़ की पुलिस लगातार आरोपी की तलाश कर रही थी। बुधवार को इगलास थाना प्रभारी रिपुदमन सिंह, एसआई महावीर सिंह, एसआई विजय सिंह, कांस्टेबल मुकेश चाहर, सोनू सिंह ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। जिसके बाद उसके खिलाफ विधिक कार्रवाई शुरू की गई है।

आंख झपकने के कारण हुई थी दुर्घटना

इगलास पुलिस को सूचना मिली थी कि लुटेरा मध्यप्रदेश में है। जिसके बाद पुलिस टीम एमपी के लिए रवाना हुई थी। आरोपी की लोकेशन बार बार बदल रही थी और रात में ड्राइवर की आंख झपकने के कारण उनकी कार ट्रक से टकरा गई थी। इसमें इगलास थाने में तैनात गाजियाबाद निवासी सब इंस्पेक्टर मनीष कुमार, फिरोजाबाद निवासी हेड कांस्टेबल सुनील कुमार, आगरा निवासी कांस्टेबल पवन कुमार, आगरा के कांस्टेबल राम कुमार समेत इगलास के टैक्सी ड्राइवर की मौत हो गई थी।

आरोपी को भेजा गया जेल

सीओ इगलास अशोक कुमार सिंह ने बताया कि मथुरा निवासी आरोपी शातिर अपराधी है और उसके खिलाफ अलीगढ़ व मथुरा में 11 मुकदमें दर्ज हैं। इसे पकड़ने के लिए बीते दिनों एमपी गई पुलिस टीम सड़क दुर्घटना में शहीद हो गई थी। उन्होंने बताया कि आरोपी के खिलाफ विधिक कार्रवाई की गई है और उसे न्यायालय में पेश करके जेल भेज दिया गया है।

खबरें और भी हैं…

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*