Murder – शौच करने गई विवाहिता की हत्या


ख़बर सुनें

छह माह पूर्व गांव के ही हुआ था प्रेम विवाह
संवाद न्यूज एजेंसी
बरहज। क्षेत्र के मौना गढ़वा निवासिनी ज्योति (20) पत्नी ज्ञानचंद राजभर की धारदार हथियार से गोदकर हत्या कर दी गई। वह ननद, सास आदि के साथ बुधवार शाम खेत की तरफ गई हुई थी। जहां गांव के ही कुछ लोगों ने उस पर हमला कर दिया। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस महिला को सीएचसी ले आई। जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया है। बताया जा रहा है कि छह माह पूर्व ज्योति ने गांव के ही लड़के से प्रेम विवाह किया था।
बुधवार की शाम करीब साढ़े सात बजे मौना गढ़वा निवासिनी ज्योति अपने सास सोनम पत्नी भूषण राजभर, ननद करिश्मा पुत्री श्रीकिशुन, रानी पुत्री शंभू आदि के साथ गांव के दक्षिण खेत की तरफ गई हुई थी। आरोप है कि जहां कुछ लोगों ने धारदार हथियार से हमला कर दिया। जिससे वह बुरी तरह से घायल हो गई। महिलाओं के शोर मचाने पर हमलावर भाग निकले। शोर सुनकर आसपास के लोग जुट गए। सूचना पाकर मौके पर पुलिस भी पहुंच गई। प्रत्यक्षदर्शियों की मानें तो ज्योति के सीने, दाएं आंख के ऊपर सहित चार-पांच जगहों पर गंभीर चोट के निशान थे। लोगों का कहना है कि करीब तीन माह पूर्व ज्ञानचंद गुजरात कमाने गया हुआ है। छह माह पूर्व ज्योति और ज्ञानचंद ने घरवालों से विरोध कर प्रेम विवाह किया था। इस संबंध में इंस्पेक्टर टीजे सिंह ने बताया कि शव को कब्जे में ले लिया गया है। मामले की जांच की जा रही है।

छह माह पूर्व गांव के ही हुआ था प्रेम विवाह

संवाद न्यूज एजेंसी

बरहज। क्षेत्र के मौना गढ़वा निवासिनी ज्योति (20) पत्नी ज्ञानचंद राजभर की धारदार हथियार से गोदकर हत्या कर दी गई। वह ननद, सास आदि के साथ बुधवार शाम खेत की तरफ गई हुई थी। जहां गांव के ही कुछ लोगों ने उस पर हमला कर दिया। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस महिला को सीएचसी ले आई। जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया है। बताया जा रहा है कि छह माह पूर्व ज्योति ने गांव के ही लड़के से प्रेम विवाह किया था।

बुधवार की शाम करीब साढ़े सात बजे मौना गढ़वा निवासिनी ज्योति अपने सास सोनम पत्नी भूषण राजभर, ननद करिश्मा पुत्री श्रीकिशुन, रानी पुत्री शंभू आदि के साथ गांव के दक्षिण खेत की तरफ गई हुई थी। आरोप है कि जहां कुछ लोगों ने धारदार हथियार से हमला कर दिया। जिससे वह बुरी तरह से घायल हो गई। महिलाओं के शोर मचाने पर हमलावर भाग निकले। शोर सुनकर आसपास के लोग जुट गए। सूचना पाकर मौके पर पुलिस भी पहुंच गई। प्रत्यक्षदर्शियों की मानें तो ज्योति के सीने, दाएं आंख के ऊपर सहित चार-पांच जगहों पर गंभीर चोट के निशान थे। लोगों का कहना है कि करीब तीन माह पूर्व ज्ञानचंद गुजरात कमाने गया हुआ है। छह माह पूर्व ज्योति और ज्ञानचंद ने घरवालों से विरोध कर प्रेम विवाह किया था। इस संबंध में इंस्पेक्टर टीजे सिंह ने बताया कि शव को कब्जे में ले लिया गया है। मामले की जांच की जा रही है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*