Police Unveiled 4 Incidents Of Theft, Four Accused Arested – चोरी की चार घटनाओं का पुलिस ने किया पर्दाफाश, चार आरोपी गिरफ्तार


ख़बर सुनें

चोरी की चार घटनाओं का पुलिस ने किया पर्दाफाश, चार आरोपी गिरफ्तार
देवरिया। शहर और देहात की मकानों में चोरी की घटनाओं को अंजाम देने वाले गिरोह का कोतवाली पुलिस और एसओजी ने बुधवार को पर्दाफाश किया है। गिरोह के चार आरोपितों को गिरफ्तार कर चोरी के 47 हजार रुपये, पिस्टल, जेवर और बुलेट बाइक पुलिस ने बरामद की है। पुलिस का कहना है कि दस दिन पहले इसी गिरोह ने शहर में आभूषण की दो दुकानों में चोरी की थी। शातिरों के फुटेज सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गए थे।
एएसपी राजेश कुमार सोनकर और सीओ सदर श्रीयश त्रिपाठी ने पुलिस लाइंस में पत्रकारों को बताया कि प्रभारी एसओजी अनिल कुमार यादव, प्रभारी निरीक्षक अनुज कुमार सिंह को सुबह मुखबिर से सूचना मिली। उसे गंभीरता से लेते हुए सदर कोतवाली के पिपरपाती गांव की छोटी पुलिया के पास पहुंचकर चार संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो चोरी की चार घटनाओं का पर्दाफाश हुआ। पकड़े गए आरोपितों की पहचान विशाल निवासी बांसपार, गुच्चू राजभर उर्फ उपेंद्र राजभर निवासी घटैला गाजी, विकास बांसफोर उर्फ रसगुल्ला निवासी रामगुलाम टोला, विवेक दीक्षित निवासी सिरसिया दीक्षित थाना कोतवाली के रूप में हुई है। पुलिस ने आरोपितों की निशानदेही पर 47 हजार रुपये, डेढ़ लाख रुपये के जेवर 15 पायल, चार हार, 20 बिछिया, एक चेन, एक टप्स, चांदी के 20 सिक्के, एक झुमका, एक लाइसेंसी पिस्टल व एक मोटरसाइकिल बरामद की गई है।
इन घटनाओं का हुआ खुलासा
देवरिया। 20 दिसंबर को शहर के नई बाजार स्थित दो ज्वैलर्स की दुकान के शटर का ताला तोड़कर चोरी हुई थीं। इसमें इस गिरोह के तीन सदस्यों की पहचान सीसीटीवी फुटेज में हुई। उसके आधार पर पुलिस शातिरों तक पहुंचने में कामयाब हो गई। 21 दिसंबर को ग्राम बरईपुर लाला में एक घर से जेवरात चोरी हुए थे। इसका मुकदमा रामपुर कारखाना में दर्ज है। 23 अगस्त को 2019 को ग्राम वरूआडीह स्थित कपिल देव सिंह मुर्गी फार्म से उनका लाइसेंसी पिस्टल को चोरी कर लिया था। उसे पुलिस ने बरामद कर लिया है। इस मामलेेेे में बरियारपुर में मुकदमा दर्ज है।
गिरफ्तार करने वाली टीम
एसओजी के दरोगा गोपाल प्रसाद, जयशंकर मिश्रा, केशव राम, विनय सिंह, योगेंद्र कुमार, धनंजय श्रीवास्तव, दिव्यशंकर राय, सुदामा यादव, अनिल कुमार, राकेश कुमार, रितेश सोनकर, विनय प्रताप, दीपक कुमार रहे।

चोरी की चार घटनाओं का पुलिस ने किया पर्दाफाश, चार आरोपी गिरफ्तार

देवरिया। शहर और देहात की मकानों में चोरी की घटनाओं को अंजाम देने वाले गिरोह का कोतवाली पुलिस और एसओजी ने बुधवार को पर्दाफाश किया है। गिरोह के चार आरोपितों को गिरफ्तार कर चोरी के 47 हजार रुपये, पिस्टल, जेवर और बुलेट बाइक पुलिस ने बरामद की है। पुलिस का कहना है कि दस दिन पहले इसी गिरोह ने शहर में आभूषण की दो दुकानों में चोरी की थी। शातिरों के फुटेज सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गए थे।

एएसपी राजेश कुमार सोनकर और सीओ सदर श्रीयश त्रिपाठी ने पुलिस लाइंस में पत्रकारों को बताया कि प्रभारी एसओजी अनिल कुमार यादव, प्रभारी निरीक्षक अनुज कुमार सिंह को सुबह मुखबिर से सूचना मिली। उसे गंभीरता से लेते हुए सदर कोतवाली के पिपरपाती गांव की छोटी पुलिया के पास पहुंचकर चार संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो चोरी की चार घटनाओं का पर्दाफाश हुआ। पकड़े गए आरोपितों की पहचान विशाल निवासी बांसपार, गुच्चू राजभर उर्फ उपेंद्र राजभर निवासी घटैला गाजी, विकास बांसफोर उर्फ रसगुल्ला निवासी रामगुलाम टोला, विवेक दीक्षित निवासी सिरसिया दीक्षित थाना कोतवाली के रूप में हुई है। पुलिस ने आरोपितों की निशानदेही पर 47 हजार रुपये, डेढ़ लाख रुपये के जेवर 15 पायल, चार हार, 20 बिछिया, एक चेन, एक टप्स, चांदी के 20 सिक्के, एक झुमका, एक लाइसेंसी पिस्टल व एक मोटरसाइकिल बरामद की गई है।

इन घटनाओं का हुआ खुलासा

देवरिया। 20 दिसंबर को शहर के नई बाजार स्थित दो ज्वैलर्स की दुकान के शटर का ताला तोड़कर चोरी हुई थीं। इसमें इस गिरोह के तीन सदस्यों की पहचान सीसीटीवी फुटेज में हुई। उसके आधार पर पुलिस शातिरों तक पहुंचने में कामयाब हो गई। 21 दिसंबर को ग्राम बरईपुर लाला में एक घर से जेवरात चोरी हुए थे। इसका मुकदमा रामपुर कारखाना में दर्ज है। 23 अगस्त को 2019 को ग्राम वरूआडीह स्थित कपिल देव सिंह मुर्गी फार्म से उनका लाइसेंसी पिस्टल को चोरी कर लिया था। उसे पुलिस ने बरामद कर लिया है। इस मामलेेेे में बरियारपुर में मुकदमा दर्ज है।

गिरफ्तार करने वाली टीम

एसओजी के दरोगा गोपाल प्रसाद, जयशंकर मिश्रा, केशव राम, विनय सिंह, योगेंद्र कुमार, धनंजय श्रीवास्तव, दिव्यशंकर राय, सुदामा यादव, अनिल कुमार, राकेश कुमार, रितेश सोनकर, विनय प्रताप, दीपक कुमार रहे।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*