Pustaahar Unit – पांच ब्लॉकों में पुष्टाहार यूनिट लगा रहीं समूह की महिलाएं


ख़बर सुनें

पांच ब्लॉकों में पुष्टाहार यूनिट लगा रहीं समूह की महिलाएं
संवाद न्यूज एजेंसी
देवरिया। खेती-बाड़ी, सिलाई-बुनाई कर जीविकोपार्जन करने वाली गांव की महिलाएं अब बड़े निवेश में भाग्य आजमाने लगी हैं। एनआरएलएम के सहयोग से स्वयं सहायता समूह की महिलाओं ने जिले में पांच टेक होम राशन(पुष्टाहार) यूनिट की नींव रखी है। यहां बच्चों व धात्री महिलाओं के लिए पुष्टाहार तैयार किया जाएगा। इसकी आपूर्ति एकीकृत बाल विकास सेवा केंद्रों पर की जाएगी।
टेक होम राशन यूनिट की स्थापना पांच ब्लॉकों में की जा रही है। देवरिया सदर, गौरीबाजार, रुद्रपुर व भाटपाररानी में यूनिट लगाने का काम पूरा हो चुका है। भागलपुर में भी जल्द प्लांट लग जाएगा। प्रत्येक यूनिट की स्थापना में ब्लॉक की तीन सौ स्वयं सहायता समूह की महिलाएं 30-30 हजार रुपये निवेश कर रही हैं। एक यूनिट पर 88 लाख रुपये खर्च कि ए जा रहे हैं। इसमें 73.16 लाख रुपये प्लांट की लागत, जेनरेटर पर पांच लाख, पानी की उपलब्धता व मोटर के लिए एक लाख व बिजली कनेक्शन पर पांच लाख रुपये खर्च निर्धारित है।
इनसेट
प्रतिमाह 30 लाख रुपये आएगा खर्च
टेक होम राशन यूनिट चलाने के लिए प्रतिमाह 30 लाख रुपये की आवश्यकता है। शुरुआती दो माह तक यह धनराशि बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग ग्रामीण आजीविका मिशन को एडवांस में उपलब्ध कराएगा। ताकि यूनिट संचालन में कोई बाधा उत्पन्न न हो।
15 हजार महिलाओं को मिलेगा लाभ
प्रत्येक टेक होम राशन यूनिट की स्थापना में तीन सौ स्वयं सहायता समूह साझेदार हैं। एक समूह से औसतन दस महिलाएं जुड़ीं होती हैं। पांच यूनिट लगने से होने वाले फायदे का लाभ 15 हजार महिलाओं को मिलेगा। इसके अलावा प्रत्येक यूनिट में 20-20 वर्कर रखी जाएंगी। इन्हें आठ हजार रुपये प्रतिमाह मानदेय दिया जाएगा।
कोट
देवरिया सदर, गौरीबाजार, रुद्रपुर और भाटपाररानी में टेक होम राशन यूनिट की स्थापना हो चुकी है। भागलपुर में प्लांट लगना बाकी है। जल्द ही सभी यूनिट का संचालन शुरू करा दिया जाएगा। प्रत्येक यूनिट में तीन सौ स्वयं सहायता समूहों का निवेश है।
– विजय शंकर राय, डीसी एनआरएलएम।

पांच ब्लॉकों में पुष्टाहार यूनिट लगा रहीं समूह की महिलाएं

संवाद न्यूज एजेंसी

देवरिया। खेती-बाड़ी, सिलाई-बुनाई कर जीविकोपार्जन करने वाली गांव की महिलाएं अब बड़े निवेश में भाग्य आजमाने लगी हैं। एनआरएलएम के सहयोग से स्वयं सहायता समूह की महिलाओं ने जिले में पांच टेक होम राशन(पुष्टाहार) यूनिट की नींव रखी है। यहां बच्चों व धात्री महिलाओं के लिए पुष्टाहार तैयार किया जाएगा। इसकी आपूर्ति एकीकृत बाल विकास सेवा केंद्रों पर की जाएगी।

टेक होम राशन यूनिट की स्थापना पांच ब्लॉकों में की जा रही है। देवरिया सदर, गौरीबाजार, रुद्रपुर व भाटपाररानी में यूनिट लगाने का काम पूरा हो चुका है। भागलपुर में भी जल्द प्लांट लग जाएगा। प्रत्येक यूनिट की स्थापना में ब्लॉक की तीन सौ स्वयं सहायता समूह की महिलाएं 30-30 हजार रुपये निवेश कर रही हैं। एक यूनिट पर 88 लाख रुपये खर्च कि ए जा रहे हैं। इसमें 73.16 लाख रुपये प्लांट की लागत, जेनरेटर पर पांच लाख, पानी की उपलब्धता व मोटर के लिए एक लाख व बिजली कनेक्शन पर पांच लाख रुपये खर्च निर्धारित है।

इनसेट

प्रतिमाह 30 लाख रुपये आएगा खर्च

टेक होम राशन यूनिट चलाने के लिए प्रतिमाह 30 लाख रुपये की आवश्यकता है। शुरुआती दो माह तक यह धनराशि बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग ग्रामीण आजीविका मिशन को एडवांस में उपलब्ध कराएगा। ताकि यूनिट संचालन में कोई बाधा उत्पन्न न हो।

15 हजार महिलाओं को मिलेगा लाभ

प्रत्येक टेक होम राशन यूनिट की स्थापना में तीन सौ स्वयं सहायता समूह साझेदार हैं। एक समूह से औसतन दस महिलाएं जुड़ीं होती हैं। पांच यूनिट लगने से होने वाले फायदे का लाभ 15 हजार महिलाओं को मिलेगा। इसके अलावा प्रत्येक यूनिट में 20-20 वर्कर रखी जाएंगी। इन्हें आठ हजार रुपये प्रतिमाह मानदेय दिया जाएगा।

कोट

देवरिया सदर, गौरीबाजार, रुद्रपुर और भाटपाररानी में टेक होम राशन यूनिट की स्थापना हो चुकी है। भागलपुर में प्लांट लगना बाकी है। जल्द ही सभी यूनिट का संचालन शुरू करा दिया जाएगा। प्रत्येक यूनिट में तीन सौ स्वयं सहायता समूहों का निवेश है।

– विजय शंकर राय, डीसी एनआरएलएम।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*