Total 630 Corona Active Cases in Varanasi; Many doctors became patients, recovery only 1 | वाराणसी में 630 कोरोना एक्टिव केसेज; दर्जनों डॉक्टर बने मरीज, 5 बच्चे भी प्रभावित

वाराणसी29 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

वाराणसी में आज रिकॉर्ड 201 लोग संक्रमित आए हैं। कुल 630 कोरोना एक्टिव केसेज शहर में हो गए हैं। वहीं आज वाराणसी के कई डॉक्टर भी कोरोना के मरीज हो गए हैं। BHU कैंपस से 1 दर्जन, IIVR, 4 डॉक्टर महामना कैंसर संस्थान और होमी भाभा कैंसर संस्थान से आए हैं। इनके साथ ही 5 बच्चे भी आज संक्रमित हुए हैं, जिनकी उम्र 2-12 साल के बीच में है। आज संक्रमित मिले लोगों में 60% पुरुष हैं।

गुरुवार को वाराणसी में 174 लोग संक्रमित हुए थे। वहीं कुल एक्टिव मामले 421 थे और 2 मरीज होम आइसोलेशन में कोविड निगेटिव भी आए थे। अभी तक जीनोम सिक्वेंसिंगी की रिपोर्ट तो नहीं आई है मगर तेजी से फैल रहे कोरोना के पीछे ओमिक्रॉन को ही कारण माना जा रहा है।

इन जगहों से आए पॉजिटिव

आज BHU कैंपस में एक तरह से कोरोना बम फूटा है। 10 से ज्यादा मामले आए जिनमें से सभी पुरुष हैं। BHU हॉस्टल, IMS-BHU, कर्मचारी आवास, BLW कैंपस, LBS हाॅस्पिटल रामनगर, पुलिस लाइन, खोजवां, कमिश्नर आवास, सोनातालाब, सेनपुरा, बजरडीहा, दुर्गाकुंड, अशोक विहार, भगवानपुर, छित्तूपुर, सिगरा, रथयात्रा, पांडेयपुर, चितईपुर, कैंट, महमूरगंज, रविंद्रपुरी, नदेसर, लंका, रामनगर, नीचीबाग, चौकाघाट, लहरतारा, सुंदरपुर, सारनाथ, सिगरा, सामनेघाट, जवाहर नगर, गोविंदपुर, शिवपुर, पहड़िया, जियापुर, महमूरगंज, पांडेयपुर आदि जगहों से लोग कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। आज आई जांच रिपोर्ट में 6 बच्चे भी कोविड पॉजिटिव आए हैं। इसमें चार से 12 साल के बीच के बच्चे शामिल हैं। आज पॉजिटिव आए मामलों में 70% संख्या पुरुषों की है। वहीं इनमें से 60% वैक्सीनेटेड हैं।

6,323 लोगों की आई जांच रिपोर्ट

आज वाराणसी में कुल 6,323 लोगों की कोविड जांच रिपोर्ट आई, जिसमें इतने लोग पॉजिटिव आए हैं। वहीं, अभी 3,478 लोगों के जांच की रिपोर्ट आनी बाकी है। आज 5,952 लोगों ने कोविड का टेस्ट कराया। इनकी रिपोर्ट शनिवार को आएगी। इन लोगों की कांटैक्ट ट्रैसिंग की जा रही है। पॉजिटिव आने पर आइसोलेट करके दवा दी जाएगी।

कोरोना की तरह लापरवाही भी नहीं थम रही

वाराणसी के CMO डॉ. संदीप चौधरी ने कहा है कि कफ के साथ बुखार आए तो तत्काल पास के स्टेटिक बूथ में कोविड टेस्ट कराएं। कोविड के एक्सपर्ट बताते हैं कि इस लहर में कोई नहीं सुरक्षित है। वैक्सीन लगवाने वालों को सीवियारटी नहीं होगी। हालांकि हर कोई संक्रमित होगा। वहीं अस्पताल में भर्ती करने की समस्या इस बार कम ही देखी जा रही है।

खबरें और भी हैं…

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*