Arrest – आदित्य मणि हत्याकांड का मुख्य आरोपित गिरफ्तार, पीड़ित पिता ने दम तोड़ा


ख़बर सुनें

आदित्य मणि हत्याकांड का मुख्य आरोपित गिरफ्तार, पीड़ित पिता ने दम तोड़ा
संवाद न्यूज एजेंसी
देवरिया। शहर के रामनाथ देवरिया मोहल्ला निवासी आदित्य मणि हत्याकांड के मुख्य आरोपित निहाल प्रताप को मंगलवार सुबह कोतवाली पुलिस ने शहर की बंद चीनी मिल के ग्राउंड से गिरफ्तार कर लिया। उधर, पीड़ित पिता की गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में इलाज कराने गए मृत युवक के पिता का भी निधन हो गया। इस घटना के बार एक फिर परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा।
14 अक्तूबर की रात दशहरा मेले में शहर के रामनाथ देवरिया मोहल्ला निवासी आदित्य मणि त्रिपाठी उर्फ श्रीप्रकाश (19) पुत्र आशुतोष मणि की सीसी रोड पर एसबीआई के पास पीट-पीट कर हत्या कर दी गई थी। मृत शख्स के भाई सुबोध मणि की तहरीर पर मोहल्ले के भंटू चौरसिया, रामनाथ देवरिया मोहल्ले की सभासद बेबी शाही के पति प्रभाकर शाही, शुभम उर्फ नेहाल प्रताप सिंह, आयुष श्रीवास्तव, रोहित सिंह और पांच अज्ञात लोगों पर मुकदमा दर्ज कराया गया था। पुलिस विवेचना में सौरभ सिंह निवासी कोल्हुआ थाना सदर कोतवाली, प्रभात कुमार निवासी अस्थौला थाना गगहा, समीर यादव निवासी बांकी फुलवरिया थाना गौरी बाजार का नाम प्रकाश में आया। सभी को गिरफ्तार कर पुलिस जेल भेज दिया। मुख्य आरोपित नेहाल प्रताप सिंह फरार चल रहा था। मंगलवार को सीओ सदर श्रीयश त्रिपाठी को सूचना मिली कि शुभम उर्फ नेहाल बंद चीनी मिल के ग्राउंड में मौजूद हैं। सीओ के निर्देश पर कोतवाल नवीन कुमार सिंह और एसएसआई बदरूद्दीन मौके पर पहुंचे। पुलिस टीम को देख शुभम भागने की कोशिश की। हालांकि पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। उधर दूसरी तरह आदित्य के पिता आशुतोष का मंगलवार सुबह इलाज के दौरान निधन हो गया। इस घटना के बाद पूरे परिवार में कोहराम मच गया। परिजनों का रो – रो कर बुरा हाल है।

आदित्य मणि हत्याकांड का मुख्य आरोपित गिरफ्तार, पीड़ित पिता ने दम तोड़ा

संवाद न्यूज एजेंसी

देवरिया। शहर के रामनाथ देवरिया मोहल्ला निवासी आदित्य मणि हत्याकांड के मुख्य आरोपित निहाल प्रताप को मंगलवार सुबह कोतवाली पुलिस ने शहर की बंद चीनी मिल के ग्राउंड से गिरफ्तार कर लिया। उधर, पीड़ित पिता की गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में इलाज कराने गए मृत युवक के पिता का भी निधन हो गया। इस घटना के बार एक फिर परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा।

14 अक्तूबर की रात दशहरा मेले में शहर के रामनाथ देवरिया मोहल्ला निवासी आदित्य मणि त्रिपाठी उर्फ श्रीप्रकाश (19) पुत्र आशुतोष मणि की सीसी रोड पर एसबीआई के पास पीट-पीट कर हत्या कर दी गई थी। मृत शख्स के भाई सुबोध मणि की तहरीर पर मोहल्ले के भंटू चौरसिया, रामनाथ देवरिया मोहल्ले की सभासद बेबी शाही के पति प्रभाकर शाही, शुभम उर्फ नेहाल प्रताप सिंह, आयुष श्रीवास्तव, रोहित सिंह और पांच अज्ञात लोगों पर मुकदमा दर्ज कराया गया था। पुलिस विवेचना में सौरभ सिंह निवासी कोल्हुआ थाना सदर कोतवाली, प्रभात कुमार निवासी अस्थौला थाना गगहा, समीर यादव निवासी बांकी फुलवरिया थाना गौरी बाजार का नाम प्रकाश में आया। सभी को गिरफ्तार कर पुलिस जेल भेज दिया। मुख्य आरोपित नेहाल प्रताप सिंह फरार चल रहा था। मंगलवार को सीओ सदर श्रीयश त्रिपाठी को सूचना मिली कि शुभम उर्फ नेहाल बंद चीनी मिल के ग्राउंड में मौजूद हैं। सीओ के निर्देश पर कोतवाल नवीन कुमार सिंह और एसएसआई बदरूद्दीन मौके पर पहुंचे। पुलिस टीम को देख शुभम भागने की कोशिश की। हालांकि पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। उधर दूसरी तरह आदित्य के पिता आशुतोष का मंगलवार सुबह इलाज के दौरान निधन हो गया। इस घटना के बाद पूरे परिवार में कोहराम मच गया। परिजनों का रो – रो कर बुरा हाल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *