Death – ईयर फोन लगाकर बंद रेलवे क्रॉसिंग पार कर रहा छात्र ट्रेन की चपेट में आया, मौत


ख़बर सुनें

ईयर फोन लगाकर बंद रेलवे क्रॉसिंग पार कर रहा छात्र ट्रेन की चपेट में आया, मौत
संवाद न्यूज एजेंसी
भाटपाररानी(देवरिया)। ईयर फोन लगाकर बंद बेलपार रेलवे क्रॉसिंग पार करते समय सोमवार सुबह छात्र साइकिल समेत डाउन सुपरफास्ट पूर्वांचल एक्सप्रेस की चपेट में आ गया। इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। सूचना पर जीआरपी भटनी व आरपीएफ घटनास्थल पर पहुंचकर जांच में जुट गई। जीआरपी ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। देर शाम छात्र की पहचान पीयूष गुप्ता (18)पुत्र रानू गुप्ता, शिव मंदिर रोड, भाटपार रानी के रूप में हुई। वह पकड़ीबाबू के एक इंटर कॉलेज में 10वीं का छात्र था। हादसे के वक्त वह बेलपार में कोचिंग के लिए जा रहा था।
सोमवार को रेलवे क्रॉसिंग के दोनों तरफ जाम लगा हुआ था। इसी बीच एक छात्र बैग और साइकिल लिए जाम से निकलकर रेलवे क्रॉसिंग बंद होने के बावजूद ट्रैक पार करने लगा। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, वह दोनों कानों में ईयर फोन लगाए था। इसी बीच वह सामने से डाउन ट्रैक पर गोरखपुर से कोलकाता जाने वाली सुपर फास्ट पूर्वांचल एक्सप्रेस की चपेट में आ गया। हादसा इतना भयावह था कि शव का कुछ हिस्सा 50 मीटर दूर आउटर सिग्नल के डाउन ट्रैक के प्वाइंट में जाकर फंस गया। सूचना पाकर स्टेशन मास्टर बृजेश कुमार ने सफाईकर्मी को बुलाकर शव को बाहर निकलवाया। जीआरपी के एसओ मुस्ताक अहमद खान ने बताया कि देर शाम शव की शिनाख्त हो गई।

ईयर फोन लगाकर बंद रेलवे क्रॉसिंग पार कर रहा छात्र ट्रेन की चपेट में आया, मौत

संवाद न्यूज एजेंसी

भाटपाररानी(देवरिया)। ईयर फोन लगाकर बंद बेलपार रेलवे क्रॉसिंग पार करते समय सोमवार सुबह छात्र साइकिल समेत डाउन सुपरफास्ट पूर्वांचल एक्सप्रेस की चपेट में आ गया। इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। सूचना पर जीआरपी भटनी व आरपीएफ घटनास्थल पर पहुंचकर जांच में जुट गई। जीआरपी ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। देर शाम छात्र की पहचान पीयूष गुप्ता (18)पुत्र रानू गुप्ता, शिव मंदिर रोड, भाटपार रानी के रूप में हुई। वह पकड़ीबाबू के एक इंटर कॉलेज में 10वीं का छात्र था। हादसे के वक्त वह बेलपार में कोचिंग के लिए जा रहा था।

सोमवार को रेलवे क्रॉसिंग के दोनों तरफ जाम लगा हुआ था। इसी बीच एक छात्र बैग और साइकिल लिए जाम से निकलकर रेलवे क्रॉसिंग बंद होने के बावजूद ट्रैक पार करने लगा। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, वह दोनों कानों में ईयर फोन लगाए था। इसी बीच वह सामने से डाउन ट्रैक पर गोरखपुर से कोलकाता जाने वाली सुपर फास्ट पूर्वांचल एक्सप्रेस की चपेट में आ गया। हादसा इतना भयावह था कि शव का कुछ हिस्सा 50 मीटर दूर आउटर सिग्नल के डाउन ट्रैक के प्वाइंट में जाकर फंस गया। सूचना पाकर स्टेशन मास्टर बृजेश कुमार ने सफाईकर्मी को बुलाकर शव को बाहर निकलवाया। जीआरपी के एसओ मुस्ताक अहमद खान ने बताया कि देर शाम शव की शिनाख्त हो गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *