“Deoria 24 News” Jhansi Coronavirus Case Latest Update । Deputy SP Manish Sonkar Resigned After Not Get Leave For His Corona Infected Wife And 4 Year Old Daughter Case In Jhansi | कोरोना संक्रमित पत्नी और 4 साल की बेटी की देखभाल के लिए मांगी थी 6 दिन की छुट्‌टी, यूपी में चुनाव ड्यूटी के कारण SSP ने नहीं दी

  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Jhansi
  • Jhansi Coronavirus Case Latest Update । Deputy SP Manish Sonkar Resigned After Not Get Leave For His Corona Infected Wife And 4 Year Old Daughter Case In Jhansi

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

झांसी14 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
PPS मनीष सोनकर की तैनाती वर्तमान में झांसी में CO सदर के पद पर है। - Dainik Bhaskar

PPS मनीष सोनकर की तैनाती वर्तमान में झांसी में CO सदर के पद पर है।

उत्तर प्रदेश में झांसी सदर के सीओ मनीष सोनकर ने नौकरी से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने इसकी वजह कोरोना संक्रमित पत्नी और 4 साल की बेटी की देखभाल के लिए छुट्टी न मिलना बताया है। सोनकर ने अपना इस्तीफा SSP रोहन पी कनय के जरिए राज्यपाल को भेजा है। SSP ने कहा कि इस्तीफे की जानकारी सीनियर अधिकारियों को दी गई है। वे ही इस पर फैसला लेंगे। बता दें कि मनीष सोनकर 2005 बैच के PPS अफसर हैं।

दवा खाकर करते रहे ड्यूटी
CO मनीष के परिवार में पत्नी और 4 साल की बेटी हैं, जो साथ में ही रहती है। बताया जा रहा है कि उनकी पत्नी को तेज बुखार आ रहा था। 20 अप्रैल से खुद मनीष भी तेज बुखार से पीड़ित रहे। पांच बार उन्होंने टेस्ट कराया लेकिन कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट आई। इसलिए, वह दवाइयां खाकर ड्यूटी करते रहे।

मनीष की पत्नी होम्योपैथिक डॉक्टर है। पत्नी की देखरेख के चलते मनीष स्वस्थ हो गए और ड्यूटी में जुट गए। 30 अप्रैल को मनीष की पत्नी का रेंडम टेस्ट पॉजिटिव आया। इसके चलते पत्नी को आइसोलेट होना पड़ा। ऐसे में 4 साल की बेटी की जिम्मेदारी मनीष पर आ गई।

पंचायत चुनाव में मतगणना में ड्यूटी लग गई
मनीष ने टेलीफोन पर और SSP को अपनी स्थिति की जानकारी देते हुए 1 मई से 6 दिन के लिए छुट्टी मांगी। लेकिन उनकी ड्यूटी 2 से 3 मई तक बड़ागांव ब्लॉक के पंचायत चुनाव की मतगणना में लगा दी गई। इसके बाद मनीष ने नौकरी से इस्तीफा दे दिया। बताया जा रहा है कि इस्तीफे के बाद SSP ने उनको छुट्टी दे दी। इस पूरे मामले पर एडीजी जोन कानपुर भानु भास्कर का कहना है कि मामला उनकी जानकारी में है और सहानुभूति पूर्वक उसे निपटाने की कोशिश की जा रही है।

खबरें और भी हैं…

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *