Deputy Rmo Suspended – पत्नी के इलाज के लिए इस्तीफा देने वाले डिप्टी आरएमओ निलंबित


ख़बर सुनें

पत्नी के इलाज के लिए इस्तीफा देने वाले डिप्टी आरएमओ निलंबित
देवरिया। पत्नी के इलाज के लिए छुट्टी नहीं मिलने पर इस्तीफा देने वाले जिला खाद्य विपणन अधिकारी जितेंद्र कुमार यादव को निलंबित कर दिया गया है। बिना छुट्टी स्वीकृत हुए मुख्यालय छोड़ने व कार्य दायित्वों में शिथिलता बरतने के आरोप में खाद्य आयुक्त सौरभ बाबू ने शुक्रवार को निलंबन की कार्रवाई की। सोमवार को यह जानकारी विभाग में आम हुई तो अधिकारी और कर्मचारी हैरान रह गए।
आजमगढ़ निवासी जितेंद्र यादव करीब चार साल से देवरिया जनपद में डिप्टी आरएमओ के पद पर तैनात हैं। कुछ माह पहले उनके माता-पिता की मृत्यु हो गई। पत्नी भी करीब दो महीने से बीमार हैं। उन्हें हृदय की बीमारी है। करीब एक माह पूर्व उन्होंने पत्नी का इलाज कराने के लिए छुट्टी मांगी थी। अधिकारियों ने धान खरीद का हवाला देकर छुट्टी देने से इनकार कर दिया। इस पर डिप्टी आरएमओ ने खाद्य आयुक्त को अपना इस्तीफा मेल कर कार्यालय में भी डिस्पैच करा दिया। अपने अधीनस्थ को विभागीय मोबाइल देकर निजी मोबाइल स्वीच ऑफ घर चले गए। बिना छुट्टी स्वीकृत हुए कार्यालय छोड़ने व कार्य दायित्वों के निर्वहन में शिथिलता के आरोप में डिप्टी आरएमओ को निलंबित कर दिया गया है। डीएम आशुतोष निरंजन ने निलंबन की पुष्टि की है।

पत्नी के इलाज के लिए इस्तीफा देने वाले डिप्टी आरएमओ निलंबित

देवरिया। पत्नी के इलाज के लिए छुट्टी नहीं मिलने पर इस्तीफा देने वाले जिला खाद्य विपणन अधिकारी जितेंद्र कुमार यादव को निलंबित कर दिया गया है। बिना छुट्टी स्वीकृत हुए मुख्यालय छोड़ने व कार्य दायित्वों में शिथिलता बरतने के आरोप में खाद्य आयुक्त सौरभ बाबू ने शुक्रवार को निलंबन की कार्रवाई की। सोमवार को यह जानकारी विभाग में आम हुई तो अधिकारी और कर्मचारी हैरान रह गए।

आजमगढ़ निवासी जितेंद्र यादव करीब चार साल से देवरिया जनपद में डिप्टी आरएमओ के पद पर तैनात हैं। कुछ माह पहले उनके माता-पिता की मृत्यु हो गई। पत्नी भी करीब दो महीने से बीमार हैं। उन्हें हृदय की बीमारी है। करीब एक माह पूर्व उन्होंने पत्नी का इलाज कराने के लिए छुट्टी मांगी थी। अधिकारियों ने धान खरीद का हवाला देकर छुट्टी देने से इनकार कर दिया। इस पर डिप्टी आरएमओ ने खाद्य आयुक्त को अपना इस्तीफा मेल कर कार्यालय में भी डिस्पैच करा दिया। अपने अधीनस्थ को विभागीय मोबाइल देकर निजी मोबाइल स्वीच ऑफ घर चले गए। बिना छुट्टी स्वीकृत हुए कार्यालय छोड़ने व कार्य दायित्वों के निर्वहन में शिथिलता के आरोप में डिप्टी आरएमओ को निलंबित कर दिया गया है। डीएम आशुतोष निरंजन ने निलंबन की पुष्टि की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *