Karwa Chouth – रोहिणी चंद्र के संयोग में सुहागिनें कल मनाएंगी करवाचौथ व्रत


ख़बर सुनें

रोहिणी चंद्र के संयोग में सुहागिनें कल मनाएंगी करवाचौथ व्रत
संवाद न्यूज एजेंसी
देवरिया। पति की दीर्घायु के लिए करवा चौथ का व्रत इस बार 24 अक्तूबर को रखा जाएगा। ज्योतिषाचार्य के अनुसार पांच वर्ष के बाद पुन: रोहिणी चंद्र का संयोग व्रत के फल में वृद्धि करेगा। यह बेहतर संयोग है। चंद्रोदय सूर्यास्त के बाद 7:52 बजे होगा। यही अर्घ्य का सही समय है।
24 अक्तूबर को सूर्योदय सुबह 6:22 मिनट से कार्तिक कृष्ण पक्ष चतुर्थी रात्रि 2:51 बजे तक रहेगी। रोहिणी नक्षत्र रात 11:35 बजे और वरियान योग रात 11.13 बजे तक है। ज्योतिषाचार्य धनंजय पांडेय ने बताया कि मान्यता है कि चंद्रमा रोहिणी से अत्यंत प्रेम करते हैं। ऐेसे में इस दिन के व्रत से दांपत्य जीवन में मधुरता आएगी। पति का स्वास्थ्य बेहतर होगा और वे दीर्घायु होंगे। इस दिन महिलाएं सूर्योदय से पूर्व सरगही ग्रहण करती हैं। सूर्योदय के बाद व्रत का मानसिक संकल्प लेती हैं। विवाहित स्त्रियों के लिए यह व्रत अखंड सौभाग्य का कारक होता है।
महिलाओं में दिख रहा उत्साह
पंजाबी, मारवाड़ी समाज के अलावा नवविवाहिताओं में करवाचौथ व्रत को लेकर खासा उत्साह देखने को मिल रहा है। न्यू कॉलोनी निवासी चांदनी कौर एवं प्रियंका राव ने बताया कि व्रत की तैयारियाें में जुटी हैं। प्रसाद, पूजन सामग्री के साथ ही कपड़े व आभूषण की खरीदारी कर ली गई है। बरारी की बीना तिवारी एवं साकेतनगर की सोनी सिंह ने कहा कि मेहंदी रचवा ली गई है। रविवार को सोलह शृंगार कर इस व्रत को विधि विधान से पूरा करेंगे।

रोहिणी चंद्र के संयोग में सुहागिनें कल मनाएंगी करवाचौथ व्रत

संवाद न्यूज एजेंसी

देवरिया। पति की दीर्घायु के लिए करवा चौथ का व्रत इस बार 24 अक्तूबर को रखा जाएगा। ज्योतिषाचार्य के अनुसार पांच वर्ष के बाद पुन: रोहिणी चंद्र का संयोग व्रत के फल में वृद्धि करेगा। यह बेहतर संयोग है। चंद्रोदय सूर्यास्त के बाद 7:52 बजे होगा। यही अर्घ्य का सही समय है।

24 अक्तूबर को सूर्योदय सुबह 6:22 मिनट से कार्तिक कृष्ण पक्ष चतुर्थी रात्रि 2:51 बजे तक रहेगी। रोहिणी नक्षत्र रात 11:35 बजे और वरियान योग रात 11.13 बजे तक है। ज्योतिषाचार्य धनंजय पांडेय ने बताया कि मान्यता है कि चंद्रमा रोहिणी से अत्यंत प्रेम करते हैं। ऐेसे में इस दिन के व्रत से दांपत्य जीवन में मधुरता आएगी। पति का स्वास्थ्य बेहतर होगा और वे दीर्घायु होंगे। इस दिन महिलाएं सूर्योदय से पूर्व सरगही ग्रहण करती हैं। सूर्योदय के बाद व्रत का मानसिक संकल्प लेती हैं। विवाहित स्त्रियों के लिए यह व्रत अखंड सौभाग्य का कारक होता है।

महिलाओं में दिख रहा उत्साह

पंजाबी, मारवाड़ी समाज के अलावा नवविवाहिताओं में करवाचौथ व्रत को लेकर खासा उत्साह देखने को मिल रहा है। न्यू कॉलोनी निवासी चांदनी कौर एवं प्रियंका राव ने बताया कि व्रत की तैयारियाें में जुटी हैं। प्रसाद, पूजन सामग्री के साथ ही कपड़े व आभूषण की खरीदारी कर ली गई है। बरारी की बीना तिवारी एवं साकेतनगर की सोनी सिंह ने कहा कि मेहंदी रचवा ली गई है। रविवार को सोलह शृंगार कर इस व्रत को विधि विधान से पूरा करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *