Medical Collage – मेडिकल कॉलेज में दाखिले का रास्ता साफ, एनएमसी से मिली अनुमति


ख़बर सुनें

नेशनल मेडिकल काउंसिल ने कॉलेज के प्राचार्य को भेजा लेटर ऑफ परमिशन
संवाद न्यूज एजेंसी
देवरिया। महर्षि देवरहा बाबा मेडिकल कॉलेज में छात्रों के दाखिला का रास्ता साफ हो गया है। इस संबंध में एनएमसी ने कॉलेज के प्राचार्य को पत्र भेजा है। अब काउंसिलिंग के बाद एमबीबीएस प्रथम वर्ष में छात्रों का प्रवेश होगे के बाद पढ़ाई होगी।
जिले में चिकित्सा शिक्षा और बेहतर उपचार की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए सरकार ने जिले को मेडिकल कॉलेज की सौगात दी है। 25 अक्तूबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सिद्धार्थनगर से वर्चुअल उद्घाटन के बाद एनएमसी के अनुमति का इंतजार था। नीट की परीक्षा का परिणाम आ गया, लेकिन अनुमति नहीं मिली थी। अब प्रवेश के लिए नेशनल मेडिकल काउंसिल की ओर से कॉलेज के प्राचार्य को लेटर ऑफ परमिशन (एलओपी) भेजा गया है। यह पत्र मिलने पर कॉलेज प्रशासन, चिकित्सकों का कर्मियों ने हर्ष जताया। अनुमति मिलने के बाद काउंसिलिंग के माध्यम से मेडिकल कॉलेज में सौ छात्र प्रवेश ले सकेंगे। कॉलेज में प्रथम वर्ष में छात्रों को पढ़ाने के लिए तैयारी पूरी कर ली गई है। अब मेडिकल कॉलेज प्रशासन ने छात्रों के प्रवेश को लेकर तैयारी शुरू कर दी है। प्राचार्य डॉ.एएम वर्मा के निर्देशन में कार्य किए जा रहे हैं।
कॉलेज में इनकी हुई है तैनाती
मेडिकल कॉलेज में 45 शिक्षकों की नियुक्ति हुई है। इसके साथ ही 21 सीनियर रेजिडेंट (एसआर) व 50 जूनियर रेजिडेंट (जेआर) नियुक्त किए गए हैं। एनाटॉमी विभाग में प्रो. मृत्युंजय पांडेय, एसोसिएट प्रो. कल्पना पुरोहित, असिस्टेंट प्रो. शालिनी गुप्ता, डॉ. संघर्ष राव, बॉयोकेमिस्ट्री विभाग में प्रो. श्वेता सिंह, असिस्टेंट प्रो. संजय भट्ट एवं फिजियोलाजी में प्रो. एसएल वर्मा, एसोसिएट प्रो. अनीता रावत, असिस्टेंट प्रो. सोनू कुमार, डॉ. देवप्रिया घोष की नियुक्ति हुई है।
ये भवन हैं तैयार
मेडिकल कॉलेज में प्रशासनिक व शैक्षणिक भवन, प्राचार्य सहित अन्य कार्यालय, काउंसिल रूम, सेंट्रल लाइब्रेरी, डायरेक्टर बंगला, प्रयोगशाला, ब्वॉयज, गर्ल्स व नर्सेज हॉस्टल, चिकित्सा शिक्षकों व चिकित्सकों सहित अन्य कर्मियों का आवास तैयार हो चुके हैं।
नेशनल मेडिकल काउंसिल से छात्रों के प्रवेश की अनुमति मिल गई है। इस संबंध में लेटर ऑफ परमिशन आ गया है। अब काउंसिलिंग के बाद छात्रों का दाखिला शुरू हो जाएगा। इसे लेकर तैयारी की जा रही है।
– डॉ. एएम वर्मा, प्राचार्य, महर्षि देवरहा बाबा मेडिकल कॉलेज

नेशनल मेडिकल काउंसिल ने कॉलेज के प्राचार्य को भेजा लेटर ऑफ परमिशन

संवाद न्यूज एजेंसी

देवरिया। महर्षि देवरहा बाबा मेडिकल कॉलेज में छात्रों के दाखिला का रास्ता साफ हो गया है। इस संबंध में एनएमसी ने कॉलेज के प्राचार्य को पत्र भेजा है। अब काउंसिलिंग के बाद एमबीबीएस प्रथम वर्ष में छात्रों का प्रवेश होगे के बाद पढ़ाई होगी।

जिले में चिकित्सा शिक्षा और बेहतर उपचार की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए सरकार ने जिले को मेडिकल कॉलेज की सौगात दी है। 25 अक्तूबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सिद्धार्थनगर से वर्चुअल उद्घाटन के बाद एनएमसी के अनुमति का इंतजार था। नीट की परीक्षा का परिणाम आ गया, लेकिन अनुमति नहीं मिली थी। अब प्रवेश के लिए नेशनल मेडिकल काउंसिल की ओर से कॉलेज के प्राचार्य को लेटर ऑफ परमिशन (एलओपी) भेजा गया है। यह पत्र मिलने पर कॉलेज प्रशासन, चिकित्सकों का कर्मियों ने हर्ष जताया। अनुमति मिलने के बाद काउंसिलिंग के माध्यम से मेडिकल कॉलेज में सौ छात्र प्रवेश ले सकेंगे। कॉलेज में प्रथम वर्ष में छात्रों को पढ़ाने के लिए तैयारी पूरी कर ली गई है। अब मेडिकल कॉलेज प्रशासन ने छात्रों के प्रवेश को लेकर तैयारी शुरू कर दी है। प्राचार्य डॉ.एएम वर्मा के निर्देशन में कार्य किए जा रहे हैं।

कॉलेज में इनकी हुई है तैनाती

मेडिकल कॉलेज में 45 शिक्षकों की नियुक्ति हुई है। इसके साथ ही 21 सीनियर रेजिडेंट (एसआर) व 50 जूनियर रेजिडेंट (जेआर) नियुक्त किए गए हैं। एनाटॉमी विभाग में प्रो. मृत्युंजय पांडेय, एसोसिएट प्रो. कल्पना पुरोहित, असिस्टेंट प्रो. शालिनी गुप्ता, डॉ. संघर्ष राव, बॉयोकेमिस्ट्री विभाग में प्रो. श्वेता सिंह, असिस्टेंट प्रो. संजय भट्ट एवं फिजियोलाजी में प्रो. एसएल वर्मा, एसोसिएट प्रो. अनीता रावत, असिस्टेंट प्रो. सोनू कुमार, डॉ. देवप्रिया घोष की नियुक्ति हुई है।

ये भवन हैं तैयार

मेडिकल कॉलेज में प्रशासनिक व शैक्षणिक भवन, प्राचार्य सहित अन्य कार्यालय, काउंसिल रूम, सेंट्रल लाइब्रेरी, डायरेक्टर बंगला, प्रयोगशाला, ब्वॉयज, गर्ल्स व नर्सेज हॉस्टल, चिकित्सा शिक्षकों व चिकित्सकों सहित अन्य कर्मियों का आवास तैयार हो चुके हैं।

नेशनल मेडिकल काउंसिल से छात्रों के प्रवेश की अनुमति मिल गई है। इस संबंध में लेटर ऑफ परमिशन आ गया है। अब काउंसिलिंग के बाद छात्रों का दाखिला शुरू हो जाएगा। इसे लेकर तैयारी की जा रही है।

– डॉ. एएम वर्मा, प्राचार्य, महर्षि देवरहा बाबा मेडिकल कॉलेज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *