Nisaad Party – ‘किसी दल का बंधुआ मजदूर नहीं निषाद’


ख़बर सुनें

रुद्रपुर में समाज उत्थान यात्रा के समापन समारोह में बोले निषाद पार्टी के मुखिया
भाजपा के साथ निषाद पार्टी का समझौता निषाद आरक्षण की शर्त पर हुआ है
संवाद न्यूज एजेंसी
रुद्रपुर(देवरिया)। निषाद और उनकी उपजातियां किसी राजनीतिक दल की बंधुआ मजदूर नहीं हैं। प्रदेश में 18 प्रतिशत संख्या निषादों की है। ऐसे में संख्या के अनुसार इन्हें अधिकार मिलना चाहिए। निषाद आरक्षण के लक्ष्य को हासिल करना पार्टी का उद्देश्य है। यह कहना निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और एमएलसी संजय निषाद का।
वे बुधवार को रुद्रपुर में समाज उत्थान यात्रा के समापन समारोह में निषाद समाज के लोगों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि निषाद और उनकी उपजातियों के साथ हर दल ने दगाबाजी की है। सपा, बसपा और कांग्रेस वोट लेकर निषादों को मूर्ख बनाती रहीं। जल के खनिज पर निषादों का अधिकार था। दलालों ने यह अधिकार छीन लिया। निषाद का हक लेकर माफिया बालू से सोना निकाल रहे हैं। अपने हक और अधिकार को पाने के लिए निषाद, बिंद,मल्लाह,केवट को एक होना पड़ेगा। निषाद पार्टी समाज के अधिकार को लेकर रहेगी। भाजपा के साथ निषाद पार्टी का समझौता निषाद आरक्षण की शर्त पर हुआ है। यदि पार्टी को उचित सम्मान नहीं मिला तो वह समझौते पर विचार करने को मजबूर होगी।
इससे पहले दुग्धेश्वर नाथ मंदिर पर समाज उत्थान यात्रा के समापन समारोह में पहुंचे राष्ट्रीय अध्यक्ष का जोरदार स्वागत हुुआ। बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओं ने उनको फूल मालाओं से स्वागत किया। पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता अजय सिंह के नेतृत्व कार्यकर्ताओं ने राष्ट्रीय अध्यक्ष के काफिले का गौरीबाजार से अगुवाई की। काफिले को जगह जगह रोककर स्वागत हुआ। इस अवसर पर डॉ अमित निषाद, राजेश सिंह, प्रीति निषाद, उदयराज, राजकपूर यादव, राजेश निषाद, दरोगा जुल्म निषाद आदि मौजूद रहें।

रुद्रपुर में समाज उत्थान यात्रा के समापन समारोह में बोले निषाद पार्टी के मुखिया

भाजपा के साथ निषाद पार्टी का समझौता निषाद आरक्षण की शर्त पर हुआ है

संवाद न्यूज एजेंसी

रुद्रपुर(देवरिया)। निषाद और उनकी उपजातियां किसी राजनीतिक दल की बंधुआ मजदूर नहीं हैं। प्रदेश में 18 प्रतिशत संख्या निषादों की है। ऐसे में संख्या के अनुसार इन्हें अधिकार मिलना चाहिए। निषाद आरक्षण के लक्ष्य को हासिल करना पार्टी का उद्देश्य है। यह कहना निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और एमएलसी संजय निषाद का।

वे बुधवार को रुद्रपुर में समाज उत्थान यात्रा के समापन समारोह में निषाद समाज के लोगों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि निषाद और उनकी उपजातियों के साथ हर दल ने दगाबाजी की है। सपा, बसपा और कांग्रेस वोट लेकर निषादों को मूर्ख बनाती रहीं। जल के खनिज पर निषादों का अधिकार था। दलालों ने यह अधिकार छीन लिया। निषाद का हक लेकर माफिया बालू से सोना निकाल रहे हैं। अपने हक और अधिकार को पाने के लिए निषाद, बिंद,मल्लाह,केवट को एक होना पड़ेगा। निषाद पार्टी समाज के अधिकार को लेकर रहेगी। भाजपा के साथ निषाद पार्टी का समझौता निषाद आरक्षण की शर्त पर हुआ है। यदि पार्टी को उचित सम्मान नहीं मिला तो वह समझौते पर विचार करने को मजबूर होगी।

इससे पहले दुग्धेश्वर नाथ मंदिर पर समाज उत्थान यात्रा के समापन समारोह में पहुंचे राष्ट्रीय अध्यक्ष का जोरदार स्वागत हुुआ। बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओं ने उनको फूल मालाओं से स्वागत किया। पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता अजय सिंह के नेतृत्व कार्यकर्ताओं ने राष्ट्रीय अध्यक्ष के काफिले का गौरीबाजार से अगुवाई की। काफिले को जगह जगह रोककर स्वागत हुआ। इस अवसर पर डॉ अमित निषाद, राजेश सिंह, प्रीति निषाद, उदयराज, राजकपूर यादव, राजेश निषाद, दरोगा जुल्म निषाद आदि मौजूद रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *