Poision – ससुराल वालों पर पति को जहर देकर मारने का आरोप


ख़बर सुनें

पीड़िता ने एसपी से शिकायत कर लगाई न्याय की गुहार
संवाद न्यूज एजेंसी
भटनी। थाना क्षेत्र के बांस घांटी गांव निवासी एक महिला ने ससुराल वालों पर पति को जहर देकर मारने का आरोप लगाया है। पीड़िता ने एसपी से न्याय की गुहार लगाते हुए स्थानीय पुलिस पर परेशान करने का भी आरोप लगाया है। पीड़िता ने शिकायत के साथ पोस्टमार्टम रिपोर्ट की प्रति भी एसपी को सौंपी है। जिसमें जहर से मौत होने का दावा किया गया है। एसपी के निर्देश पर पुलिस मामले की जांच कर रही है।
भटनी थाना क्षेत्र के बांस घांटी गांव निवासी रिंकी देवी ने पत्र के माध्यम से एसपी को बताया है कि तीन अक्तूबर को मेरे पति आशुतोष पांडेय को मेरे जेठ और उनके रिश्तेदार ने घांटी बाजार चौराहे पर बुलाया। देर रात वापस लौटने पर पति की तबीयत खराब हो गई। रात भर ससुरालियों ने उनको उसी हाल में छोड़ दिया। सुबह मेरे मायके फोन कर मुझे इसकी जानकारी दी गई। अगले दिन मौके पर पहुंचने पर पति को छोड़ पूरा परिवार गायब मिला। आनन फानन में उन्हें अस्पताल ले जाया गया। इलाज के दौरान मेडिकल कॉलेज गोरखपुर में उनका 10 अक्टूबर को मौत हो गई। घटना के बाद डॉक्टरों ने जहर खाने से मौत होने की बात बताई। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी जहर से मौत की पुष्टि हुई है। बावजूद स्थानीय पुलिस शिकायत के बाद भी आरोपितों पर कोई कार्रवाई नही कर रही है। एसपी डॉ. श्रीपति मिश्र के निर्देश पर पुलिस मामले की जांच कर रही है। एसओ गोपाल पांडेय ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में स्थिति स्पष्ट नही होने पर बिसरा के लिए सुरक्षित किया गया था। बिसरा रिपोर्ट आने के बाद आरोपितों पर केस दर्ज किया जाएगा।

पीड़िता ने एसपी से शिकायत कर लगाई न्याय की गुहार

संवाद न्यूज एजेंसी

भटनी। थाना क्षेत्र के बांस घांटी गांव निवासी एक महिला ने ससुराल वालों पर पति को जहर देकर मारने का आरोप लगाया है। पीड़िता ने एसपी से न्याय की गुहार लगाते हुए स्थानीय पुलिस पर परेशान करने का भी आरोप लगाया है। पीड़िता ने शिकायत के साथ पोस्टमार्टम रिपोर्ट की प्रति भी एसपी को सौंपी है। जिसमें जहर से मौत होने का दावा किया गया है। एसपी के निर्देश पर पुलिस मामले की जांच कर रही है।

भटनी थाना क्षेत्र के बांस घांटी गांव निवासी रिंकी देवी ने पत्र के माध्यम से एसपी को बताया है कि तीन अक्तूबर को मेरे पति आशुतोष पांडेय को मेरे जेठ और उनके रिश्तेदार ने घांटी बाजार चौराहे पर बुलाया। देर रात वापस लौटने पर पति की तबीयत खराब हो गई। रात भर ससुरालियों ने उनको उसी हाल में छोड़ दिया। सुबह मेरे मायके फोन कर मुझे इसकी जानकारी दी गई। अगले दिन मौके पर पहुंचने पर पति को छोड़ पूरा परिवार गायब मिला। आनन फानन में उन्हें अस्पताल ले जाया गया। इलाज के दौरान मेडिकल कॉलेज गोरखपुर में उनका 10 अक्टूबर को मौत हो गई। घटना के बाद डॉक्टरों ने जहर खाने से मौत होने की बात बताई। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी जहर से मौत की पुष्टि हुई है। बावजूद स्थानीय पुलिस शिकायत के बाद भी आरोपितों पर कोई कार्रवाई नही कर रही है। एसपी डॉ. श्रीपति मिश्र के निर्देश पर पुलिस मामले की जांच कर रही है। एसओ गोपाल पांडेय ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में स्थिति स्पष्ट नही होने पर बिसरा के लिए सुरक्षित किया गया था। बिसरा रिपोर्ट आने के बाद आरोपितों पर केस दर्ज किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *