Resignation – …तो मान गए इस्तीफा देने वाले खाद्य व विपणन अधिकारी


ख़बर सुनें

…तो मान गए इस्तीफा देने वाले खाद्य व विपणन अधिकारी
पत्नी के इलाज के लिए छुट्टी नहीं मिलने पर दे दिया था इस्तीफा
संवाद न्यूज एजेंसी
देवरिया। खाद्य व विपणन अधिकारी जितेंद्र यादव ने पत्नी के इलाज के लिए अवकाश न मिलने पर नाराज होकर शनिवार को इस्तीफा दे दिया था। इस्तीफे के बाद महकमे में हलचल मच गई। रविवार को मान मनौव्वल के बाद विभागीय अधिकारियों ने उनसे छुट्टी के लिए आवेदन मांगा। वह आवेदन देने के लिए राजी हो गए। उधर विभागीय अधिकारियों का कहना है कि आवेदन प्राप्त होते ही उन्हें पत्नी के इलाज के लिए लंबी छुट्टी दे दी जाएगी।
तकरीबन चार साल से जिले में खाद्य एवं विपणन अधिकारी के पद पर तैनात जितेंद्र यादव की पत्नी की तबियत दो माह से खराब है। उन्होंने इसके लिए छुट्टी अधिकारियों से मांगी थी, लेकिन अवकाश नहीं दिया गया। नाराज होकर उन्होंने त्यागपत्र दे दिया। उन्होंने कहा है कि पत्नी हृदय रोग की मरीज हैं। इन दिनों बीमार चल रही हैं। विभागीय सूत्रों की बातों पर गौर किया जाए तो एक नवंबर से धान क्रय केंद्रों पर खरीदारी शुरू होनी है। इसके कारण खाद्य एवं विपणन अधिकारी को उच्चाधिकारियों ने छुट्टी देने से मना किया गया था। क्रय केंद्रों के खोलने में राजनैतिक दबाव से भी वह परेशान थे। इससे आहत होकर उन्होंने नौकरी से त्यागपत्र देकर पत्र डिस्पैच करवा दिया। उन्होंने अपने इस्तीफा में कहा है कि घर पर माता-पिता के न रहने के कारण परिवार की देखरेख करने वाला कोई और नहीं है। परिवारिक समस्या को देखते हुए उन्होंने यह कदम उठाया। उधर अधिकारियों की मान मनोव्वल के बाद वह छुट्टी मिलने की शर्त पर अपना इस्तीफा वापस लेने के लिए राजी हो गए है। एडीएम वित्त एवं राजस्व नागेंद्र नाथ सिंह ने कहा कि खाद्य एवं विपणन अधिकारी के इस्तीफा की जानकारी मुझे नहीं है और न ही उनके स्तर से कोई सूचना दी गई है।
खाद्य एवं विपरण अधिकारी ने छुट्टी नहीं मिलने से आहत होकर इस्तीफा जरूर दिया था। लेकिन अब वह मान गए हैं। उनसे लंबी छुट्टी के लिए आवेदन मांगा गया है। आवेदन प्राप्त होते ही उनकी पारिवारिक स्थिति को देखते हुए लंबी छुट्टी स्वीकृत कर दी जाएगी।
सचिन कुमार
मंडलीय खाद्य अधिकारी
गोरखपुर

…तो मान गए इस्तीफा देने वाले खाद्य व विपणन अधिकारी

पत्नी के इलाज के लिए छुट्टी नहीं मिलने पर दे दिया था इस्तीफा

संवाद न्यूज एजेंसी

देवरिया। खाद्य व विपणन अधिकारी जितेंद्र यादव ने पत्नी के इलाज के लिए अवकाश न मिलने पर नाराज होकर शनिवार को इस्तीफा दे दिया था। इस्तीफे के बाद महकमे में हलचल मच गई। रविवार को मान मनौव्वल के बाद विभागीय अधिकारियों ने उनसे छुट्टी के लिए आवेदन मांगा। वह आवेदन देने के लिए राजी हो गए। उधर विभागीय अधिकारियों का कहना है कि आवेदन प्राप्त होते ही उन्हें पत्नी के इलाज के लिए लंबी छुट्टी दे दी जाएगी।

तकरीबन चार साल से जिले में खाद्य एवं विपणन अधिकारी के पद पर तैनात जितेंद्र यादव की पत्नी की तबियत दो माह से खराब है। उन्होंने इसके लिए छुट्टी अधिकारियों से मांगी थी, लेकिन अवकाश नहीं दिया गया। नाराज होकर उन्होंने त्यागपत्र दे दिया। उन्होंने कहा है कि पत्नी हृदय रोग की मरीज हैं। इन दिनों बीमार चल रही हैं। विभागीय सूत्रों की बातों पर गौर किया जाए तो एक नवंबर से धान क्रय केंद्रों पर खरीदारी शुरू होनी है। इसके कारण खाद्य एवं विपणन अधिकारी को उच्चाधिकारियों ने छुट्टी देने से मना किया गया था। क्रय केंद्रों के खोलने में राजनैतिक दबाव से भी वह परेशान थे। इससे आहत होकर उन्होंने नौकरी से त्यागपत्र देकर पत्र डिस्पैच करवा दिया। उन्होंने अपने इस्तीफा में कहा है कि घर पर माता-पिता के न रहने के कारण परिवार की देखरेख करने वाला कोई और नहीं है। परिवारिक समस्या को देखते हुए उन्होंने यह कदम उठाया। उधर अधिकारियों की मान मनोव्वल के बाद वह छुट्टी मिलने की शर्त पर अपना इस्तीफा वापस लेने के लिए राजी हो गए है। एडीएम वित्त एवं राजस्व नागेंद्र नाथ सिंह ने कहा कि खाद्य एवं विपणन अधिकारी के इस्तीफा की जानकारी मुझे नहीं है और न ही उनके स्तर से कोई सूचना दी गई है।

खाद्य एवं विपरण अधिकारी ने छुट्टी नहीं मिलने से आहत होकर इस्तीफा जरूर दिया था। लेकिन अब वह मान गए हैं। उनसे लंबी छुट्टी के लिए आवेदन मांगा गया है। आवेदन प्राप्त होते ही उनकी पारिवारिक स्थिति को देखते हुए लंबी छुट्टी स्वीकृत कर दी जाएगी।

सचिन कुमार

मंडलीय खाद्य अधिकारी

गोरखपुर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *