Google search engine

Deoria News: देवरिया टाइम्स। मुख्य विकास अधिकारी रवींद्र कुमार द्वारा जल जीवन मिशन के योजनाओं की गुगल मीट के माध्यम से समीक्षा की गयी, जिसमें अधिशासी अभियन्ता जल निगम (ग्रामीण) द्वारा अवगत कराया गया कि मे० एल०सी० इन्फ्रा प्रा0लि0 247 नग परियोजनाओं का कार्य प्रारम्भ करा दिया है, जिसमें पम्प हाऊस 123 नग, शिरोपरि जलाशय 142 नग का कार्य प्रगति पर है, 1048.00 कि०मी० पाइप लाइन ग्राम पंचायतों में डाल दी गयी है व FHTC 48262 नग कनेक्शन कर दिये गये हैं. मे० गायत्री प्रोजेक्ट लि० द्वारा 196 नग परियोजना का कार्य प्रारम्भ कराया गया है, जिसमें पम्प हाऊस 97 नग, शिरोपरि जलाशय 55 नग का कार्य प्रगति पर है, 925.00 कि०मी० पाइप लाइन ग्राम पंचायतों में डाल दी गयी है व FHTC 45050 नग कनेक्शन कर दिये गये हैं एवं मे० रित्विक-कोया द्वारा निर्धारित लक्ष्य 260 ग्राम पंचायत के सापेक्ष मात्र 167 डी०पी०आर० बनाये है। उक्त के सम्बन्ध में अवगत कराना है कि समस्त शेष आवंटित ग्राम पंचायतों के डी०पी०आर० तैयार कर साइन कराते हुए DWSMकी बैठक में सम्मिलित किया जाये।


तीनों फर्मों को निर्देशित किया गया कि समस्त SLSSCसे स्वीकृत DPR का Cover Agreementकराना सुनिश्चित करें। यह भी निर्देश दिये गये कि मे० एली०सी० इन्फ्रा प्रा०लि० को 5.00 कि०मी० पाइप लाइन बिछाने एवं FHTC 5000 नग कराने व मे० गायत्री प्राजेक्ट लि0 5.00 कि०मी० पाइप लाइन बिछाने एवं FHTC 5000 नग प्रतिदिन करना अनिवार्य है। मे० एल०सी० इन्फ्रा प्रा०लि० को पूर्ण के अतिरिक्त 5 परियोजनाएं व मे० गायत्री प्रोजेक्ट लि0 को 5 परियोजनाएं 31 जनवरी, 2023 तक पूर्ण करने का लक्ष्य दिया गया है। ईंट की क्वालिटी एवं कार्य स्थल पर तराई की उचित व्यवस्था न पाये जाने पर नाराजगी व्यक्त की गयी, जिससे कार्य की गुणवत्ता पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है। धीमी प्रगति होने के कारण तीनों फर्मों को अधिशासी अभियन्ता जल निगम (ग्रामीण) द्वारा नोटिस देने का निर्देश दिये गये

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here