1 / 3
Caption Text
2 / 3
astha
3 / 3
ssmall


Deoria News:देवरिया टाइम्स।
कृषि एवं कृषि से सम्बन्धित विभागों के साथ मुख्य विकास अधिकारी रवींद्र कुमार (CDO DEORIA)की अध्यक्षता में समीक्षा बैठक विकास भवन, देवरिया में किया गया।


बैठक के प्रारम्भ में सर्वप्रथम उप कृषि निदेशक, देवरिया ने बताया कि जनपद में बीजों एवं उर्वरकों की उपलब्धता भरपूर मात्रा में है। जनपद में कहीं भी उर्वरक की कमी नहीं है। सोलर पम्प योजना के अन्तर्गत जनपद हेतु कुल 418 का लक्ष्य प्राप्त हुआ था जिसके सापेक्ष कुल 268 कृषकों ने बुकिंग कराकर टोकन मनी जमा किया गया है एवं 268 कृषकों का बोरिंग सत्यापन कराया जा चुका है तथा अब तक 133 सोलर पम्प की स्थापना कराया जा चुका है। अधोहस्ताक्षरी द्वारा निर्देश दिये गये कि सोलर पम्प की स्थापना में प्रगति बहुत कम है। सोलर पम्प स्थापित करने वाली कम्पनी को नोटिस जारी करने के निर्देश दिये गये।

खेत तालाब योजना इस योजना के अन्तर्गत वित्तीय वर्ष 2022-23 हेतु जनपद में कुल 11 लक्ष्य प्राप्त है जिसके सापेक्ष 10 लाभार्थी कृषकों का तालाब निर्माण का कार्य प्रगति पर है। मुख्य विकास अधिकारी निर्देश दिये गये कि माह के अन्त तक लक्ष्य की पूर्ति करा लिया जायेगा।
जिला कार्यकारी अधिकारी, मत्स्य द्वारा बताया गया कि मत्स्य बीज अभी उपलब्ध नहीं है। जिसकी वजह से मत्स्य बीज वितरण की पूर्ति नहीं किया जा सका। किसान क्रेडिट कार्ड योजना में आवंटित लक्ष्य 1392 के सापेक्ष मात्र 600 का प्रस्ताव अब तक प्रेषित किया गया है, जो बहुत ही कम है। मुख्य विकास अधिकारी द्वारा कार्यकारी अधिकारी, मत्स्य को निर्देशित किया गया कि अभी तक आपके द्वारा मात्र 600 का प्रस्ताव भेजा गया है जो बहुत ही कम है इससे प्रतीत हो रहा है कि आपके द्वारा कार्यों में रूचि नहीं ली जा रही है। मुख्य विकास अधिकारी द्वारा मत्स्य अधिकारी को कम प्रस्ताव प्रेषित करने हेतु स्पष्टीकरण उपलब्ध कराने के निर्देश दिये गये।
सहायक अधियन्ता, नलकूप द्वारा बताया गया कि वर्तमान में जनपद में कुल 13 नलकूप खराब है जिसमें 05 यात्रिक दोष से खराब है तथा 07 नलकूप विद्युत दोष से खराब है। अधिशासी अभियन्ता, नलकूप द्वारा पिछले माह समस्त नलकूपों की सूची उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया गया था परन्तु अभी तक सूची उपलब्ध नहीं कराया मुख्य विकास अधिकारी द्वारा पुनः निर्देशित किया गया कि जनपद में समस्त नलकूपों की सूची तीन दिवस के अन्दर उपलब्ध करायें जिससे नलकूपों की जांच कराई जा सके। साथ ही अधिशासी अभियन्ता, विद्युत को मुख्य विकास अधिकारी द्वारा निर्देशित किया गया कि जिस अधिशासी अभियन्ता के अन्तर्गत खराब नलकूप पाया जायेगा उनके विरुद्ध कार्यवाही की जायेगी।


जिला उद्यान अधिकारी द्वारा बताया गया कि संरक्षित खेती हेतु शेड का निर्माण करा लिए गया है। राष्ट्रीय कृषि विकास योजना में धनराशि का आवंटन नहीं हुआ है। बैठक में जिला उद्यान अधिकारी, देवरिया को निर्देशित किया गया प्याज का प्रदर्शन समय कराया लिया जाय यंत्रीकरण में प्रस्ताव भेजने की सही स्थिति नहीं बताने पर स्पष्टीकरण जारी करने के निर्देश दिये गये। साथ ही जनपद में एक कोल्ड स्टोरेज के निर्माण की कार्यवाही कराने के निर्देश दिये गये। अधिशासी अभियन्ता, नहर को निर्देशित किया गया कि समय से नहरों की सफाई करा लिया जाय व पानी सभी नहरों में पहुंचाया जाय, अन्यथा आपके विरुद्ध कार्यवाही की जायेगी।


बैठक में विकेश कुमार, उप कृषि निदेशक, मु० मुजम्मिल, जिला कृषि अधिकारी, रतनशंकर ओझा, जिला कृषि रक्षा अधिकारी नन्द किशोर, जिला कार्यकारी अधिकारी, मत्स्य, अधिशासी अभियन्ता, विद्युत, डा० घनश्याम वर्मा, भूमि संरक्षण अधिकारी अधिशासी अभियन्ता, सिंचाई, सीताराम यादव, जिला उद्यान अधिकारी अजय कुमार, सहायक निबन्धक सहकारी समितियां,संजय कुमार, अधिशासी अभियन्ता, ट्यूबवेल, अधिशासी अभियन्ता, नहर उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here