Google search engine

Deoria News:देवरिया टाइम्स। जिलाधिकारी के निर्देश के परिपालन में आज जनपद के विकास खण्ड देसही देवरिया अन्तर्गत स्थापित उर्वरक प्रतिष्ठान आई०एफ०एफ०डी०सी० बरवामीर छापर, किसान खाद भण्डार बरवामीर छापर, इफको ई-बाजार पकड़ी बीरभद्र, सच्चिदानन्द खाद भण्डार पकड़ीबीर भद्र, कुशवाहा खाद भण्डार देसही देवरिया एवं विपिन खाद भण्डार देसही देवरिया, सा०स०स०लि० देसही देवरिया आदि दुकानो पर जिला कृषि अधिकारी मुहम्मद मुजम्मिल द्वारा सघन छापे की कार्यवाही की गयी।


निरीक्षण के समय कुशवाहा खाद भण्डार देसही देवरिया, विपिन खाद भण्डार देसही देवरिया एवं सा०स०स०लि० देसही देवरिया के सचिव द्वारा उर्वरक प्रतिष्ठान बन्द कर पलायित हो जाने के कारण कारण बताओं नोटिस निर्गत किया गया। निरीक्षण के समय सभी उर्वरक विक्रेताओं को निर्देशित किया गया कि जो किसान यूरिया के साथ अन्य उत्पादों को लेना चाहें तभी उन कृषकों को युरिया के साथ अन्य उत्पाद दिया जाय, जो नहीं लेना चाहते उन्हे जबरजस्ती न दिया जाय। साथ ही साथ स्टाक वोर्ड / रेट बोर्ड व पी०ओ०एस० मशीनों की भी जांच की गयी तथा उर्वरक विक्रेताओं को कड़े निर्देश दिये गये कि कृषको को उनके आधार कार्ड पर पी०ओ०एस० मशीन से ही उर्वरकों की बिक्री करें तथा कृषको को रसीद अवश्य उपलब्ध कराये। उर्वरक प्रतिष्ठानों पर हर हाल में फलेक्स बोर्ड (रेट बोड) लगाए तथा उर्वरक की मात्रा व दर अवश्य अंकित करे। अगर किसी उर्वरक विक्रेता द्वारा अधिक दर पर या जबरन टैगिंग कर उर्वरकों का विक्रय किया जाता है या कालाबाजारी की जाती है, तो उसके विरूद्ध उर्वरक नियन्त्रण आदेश 1985 एवं आवश्यक वस्तु अधिनियम 1955 के अन्तर्गत कार्यवाही की जाएगी। उर्वरक प्रतिष्ठानों पर छापे की कार्यवाही निरन्तर आगे भी जारी रहेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here