Google search engine

Deoria News:देवरिया टाइम्स। जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह के निर्देश पर आज विभिन्न जनपद स्तरीय अधिकारियों ने गो-आश्रय स्थलों का निरीक्षण कर गोवंशों को ठंड से बचाव के लिए की गई व्यवस्था का जायजा लिया।


एसडीएम सदर सौरभ सिंह ने पिपराचन्द्रभान स्थित वृहत गो-आश्रय स्थल एवं पिपरपाती स्थित निराश्रित गो- आश्रय स्थल का निरीक्षण किया। उन्होंने बताया कि शीतलहर से बचाव के लिए दोनों गो-आश्रय स्थलों पर तिरपाल लगाया गया है। सभी गोवंशों को काऊ कोट पहनाया गया था। चारे की समुचित व्यवस्था मिली। उन्होंने गो-वंशों की संख्या के अनुपात में सुबह शाम अलाव जलाने का निर्देश दिया।


एसडीएम सलेमपुर अरुण कुमार ने मझौलीराज स्थित वृहत गो-आश्रय स्थल का निरीक्षण किया, जिसमें कुछ गो-वंश बिना काऊ कोट के मिले, जिसपर उन्होंने नाराजगी व्यक्त की।उन्होंने समस्त गो-वंशों को काऊ कोट पहनाने के लिए निर्देशित किया। एसडीएम ने बीमार गो-वंशों के संबन्ध में भी जानकारी प्राप्त की।
एसडीएम रुद्रपुर ध्रुव कुमार शुक्ला ने जिला पंचायत द्वारा संचालित नकइल स्थित गौ-शाला का निरीक्षण किया। उन्होंने मौके पर मिली स्थिति में पर्याप्त सुधार के लिए निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि दिन में दो बार सुबह-शाम अलाव जलाने एवं सभी गो-वंशों को काऊ कोट पहनाने के लिए निर्देशित किया।


बीडीओ भागलपुर निरंकार मिश्रा ने परसिया चंदौर में कान्हा गौशाला का निरीक्षण किया। मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी अरविंद कुमार वैश्य ने बताया कि जिलाधिकारी महोदय के निर्देशों के क्रम में ठंड के दृष्टिगत समस्त गो-आश्रय स्थलों पर विशेष एहतियात बरती जा रही है। समस्त गो-आश्रय स्थलों पर रोस्टरवार चिकित्सक जा रहे हैं और यदि कहीं कोई गो-वंश बीमार मिल रहा है तो उसका समुचित ईलाज किया जा रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here